एक भड़ासी पकवान : भिंडी-परवल वाली दही युक्त रसेदार सब्ज़ी

Yashwant Singh : भिंडी, परवल, आलू, टमाटर और दही की रसेदार सब्ज़ी। प्रयोग सफल रहा। ग़ज़ब स्वाद। देसी घी गरम कर जीरा और लाल खड़ा मिर्च डाल कर इनके भुन जाने की खुशबू आने के बाद पहले आलू डालें। एक मिनट बाद भिंडी और परवल। अगले 2 मिनट बाद टमाटर। फिर हल्दी और नमक। पांच मिनट पकाने के बाद दही डालकर भूनें।

लास्ट में जब लगे कि पक भुन गयीं सब्ज़ियां तो हर हर गंगे कहते हुए दो गिलास पानी डाल कर उबलने के लिए ढंक दें। फिर इसे चावल के साथ खाएं या रोटी संग। सूप की तरह पिएं या सब्जी की तरह यूज करें। आनन्द हर हाल में अद्भुत आएगा। इस भड़ासी पकवान का कॉपीराइट यशवंत सिंह के पास है इसलिए पकाने या खाने के दौरान ”धन्यवाद यशवंत सिंह जी” कहना न भूलें वरना सब माठा हो जाएगा…. ha ha ha… पकाइए और इंज्वाय करिए.

भड़ास के एडिटर यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

उपरोक्त स्टेटस पर आए कुछ मजेदार कमेंट्स और उनके जवाब इस प्रकार हैं…

Nirupma Pandey परवल और भिंडी एक साथ? रिस्क ज्यादा है…
Yashwant Singh सब्ज़ियां महीन न काटें। सो, रिस्क फैक्टर खत्म हो जाएगा।

Smita Dwivedi रंग तौ बहुतै नीक हैं भौजाई कहां हैं
Yashwant Singh भौजाई तब माथा पीट रहीं थी अपना कि सारी हरी सब्ज़ियों का सत्यानाश होने वाला है

Shyam Singh Rawat ये ‘हर-हर गंगे’ बांचना जरूरी है का? फलेभरवा मा इफैक्ट परल बा?
Yashwant Singh हर हर गंगे कहते हुए डालने से अगर पानी की मात्रा बढ़ भी जाए तो स्वाद पर नकारात्मक असर बेअसर रहता है…
Shyam Singh Rawat माने भड़ासी रेसिपी के आगे साइंस फेल ! हा… हा… हा…। जय हो महाराज !

Praveen K सर आपने मेरे दही प्रयोग को नया कॉन्फीडेंस दे दिया है
Yashwant Singh कानपुर में दही से सब्जियां बनती हैं। Vijay Tripathi सर् के यहां खाया हूं।
Praveen K सर हमने मजाक मजाक में दही परवल ट्राई किया.. अच्छा बना | अब और के साथ करते हैं 🙂
Yashwant Singh इननोवेट करते रहना चाहिए

Yogendra Singh Chhonkar ई विद्या कौन से गुरु से सीख ली?
Yashwant Singh खाली आदमी हूं भाई. वक्त काटने के लिए गाना-पकाना टाइप काम करता रहता हूं.

Ramji Mishra साहब क्या यह सबको हजम हो जाएगी?
Yashwant Singh ये हाजमे वाली हर्बल डिश है। दही तो पेट ठंडा रखेगा, हरी सब्ज़ियां लम्बाई में बड़ी होने से उनका नेचुरल कंटेंट इन्टैक्ट रहेगा।

Haryashva Singh Sajjan कमाल कर दिया दादा आपने… भिंडी का आलू से मेल करा दिया… जय हो!

Rani Rajesh वाह, यम्मी

Dev Nath भड़ासी पकवान लाजवाब

Purander Sawarnya ये परवल और भिंडी का मेल तो Innovation Hai.
Yashwant Singh ध्यान रखना है कि भिंडी को साबूत रखें या केवल दो पार्ट करें। परवल लम्बाई में चार पार्ट। आलू को आठ पार्ट ही काटें। मतलब सब्ज़ियों को ज्यादा महीन / छोटा न करें।

Rajesh Agrawal अब वो कहानी का क्या होगा । आलू सबके साथ भिंडी बेचारी अकेली। आपने सुनी है या नहीं। चलो भिंडी को आलू के श्राप से आपने मुक्त कर दिया….

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “एक भड़ासी पकवान : भिंडी-परवल वाली दही युक्त रसेदार सब्ज़ी”

  • अब तो मुझे भड़ासी पकवान भी खाना पड़ेगा।
    स्क्रिन-शॉट ले लिये है..
    अगले संडे प्रयोग करते है।
    तब तक नई पोस्टे भी आ जायेगी…
    फिर भड़ास पढ़ते हुवें…..भड़ासी रेसिपी खायगें…
    लाजवाब संगम ।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *