डीडी किसान पर महिला किसानों से संबंधित रिएलिटी शो शुरू होगा

17 दिसंबर 2018 से डीडी किसान पर देश का पहला ऐसा रिएलिटी शो टेलीकास्ट होने जा रहा हैं जिसमें देश भर से आयीं महिला किसान भाग ले रहीं हैं। कश्मीर, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, नार्थ-ईस्ट के सभी राज्य, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र, प.बंगाल, गोवा, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पॉंडूचेरी, दिल्ली देश के हर राज्य से सफल महिला किसान इस शो में भाग ले रहीं हैं। इन महिला किसानों का चयन कृषि के क्षेत्र में कार्यरत देश के प्रीमियरइंस्टीटयूटICAR ने किया है।

देश की कृषि में महिलाओं की भागीदारी 70 प्रतिशत से अधिक है। लेकिन उनकी इस भागीदारी के बावजूद उन्हें वह पहचान नहीं मिल पायी है जिसकी की वह हकदार हैं। पहली बार डीडी किसान ने महिला किसान अवार्ड्स की शुरुआत करके इन महिला किसानों की उपलब्धियों को देश के सामने लाने का प्रयास किया है। देश के हर हिस्से से आयीं महिला किसानों के संघर्ष और सफलता की कहानियों को उन्हीं के माध्यम से देश के सामने लाने का प्रयास किया गया है।

जननी अर्थात मां जो हमें अपनी कोख से जन्म देती है। ये जननी जब दूसरी जननी… अर्थात हमारी धरती मां से मिलती है, जो अपनी कोख से अन्न प्रदान करके, हमें जीवन जीने की शक्ति देती है और जीने की राह देती है । इन दोनों के मिलन सृष्टि का व्यापार चलता है। एक स्वस्थ परिवार और समाज का निर्माण होता है। सर्वत्र उल्लास फैलता है। जननी से जननी के मिलन का उत्सव हैं ये महिला किसान अवार्ड्स ।

प्रत्येक एपिसोड में 2 महिला किसान अपनी उपलब्धियों को जजेस के सामने बतायेंगीं। ये जज कृषि कार्य के विशेषज्ञ हैं साथ ही कला के क्षेत्र से जुड़ी एक जज भी रहेंगी। जजेस महिला किसानों के कार्यों का वैज्ञानिक विश्लेषण करेंगे और इनको अंक देंगे। सीरिज़ के अंत में 5 महिला किसान जिन्हें जजेस ने सबसे अधिक अंक दिए होंगे उन्हें फाइनल में भेजा जायेगा जहां देश की सफल महिला किसान की घोषणा की जायेगी।

महिला किसान अवार्ड्स इस मामले में भी अनूठे हैं, इसमें भाग लेने वाली हर महिला किसान अपने आप में विजेता हैं। ये मंच महिला किसानों को एक दूसरे के अनुभव से कुछ सीखने सिखाने का अवसर प्रदान कर रहा हैं। साथ ही घर बैठी लाखों महिलाओं के लिए भी प्रेरणा का स्रोत बनेगा जो जीवन में कुछ करना चाहती हैं लेकिन उचित मार्गदर्शन के अभाव में कर नहीं पा रहीं हैं।

A mega reality show has been produced by DD Kisan channel and is being launched from 17th December 2018. It is a unique show in which successful women farmers from all the states and union territories of India are participating in the program. All the women farmers have been nominated by the premier institute ICAR – Indian Council of Agricultural Research.

The contribution of women farmer has hardly been acknowledged. For the first time DD Kisan has launched the program Mahila Kisan Awards to highlight & acknowledge their achievements. An attempt has been made to bring their story of struggle and success which has been made possible by grit, determination and hard work.

The program will showcases the amazing initiatives by these farmers where they have mixed traditional agricultural practices with modern techniques. The program will take the viewers through all the agro climatic zones of the country and show how these farmers faced challenges and converted them into opportunities. The women farmers have not only uplifted their families economically but also helped the entire village by forming Self Help Groups and extended their learning and success to other farmers

In each episode two women farmers would participate and present their achievements to the juries. The Juries are scientists from the field of agriculture/social work. The Jury will evaluate their achievements and at the end of the series the top five women farmers will compete in the grand finale.

The program is unique in the sense that all the women farmers participating in the show are winners by themselves. It is a unique platform where each farmer learns from experience of others. The show will motivate & inspire viewers.

Press Release

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *