टीवी पत्रकार को धमकाने वाले भाजपा नेता और दो शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज

कन्नौज : राष्ट्रीय चैनल के पत्रकार नित्य प्रकाश मिश्रा ने कन्नौज जिले के स्थानीय भाजपा नेता हरिबक्श सिंह उनके शिक्षक बेटे विवेक सिंह व भांजे सुरजीत सिंह के काले कारनामे लगातार उजागर किए. इससे नाराज भाजपा नेता व दो शिक्षक पिछले एक महीने से टीवी पत्रकार नित्य प्रकाश मिश्रा को हत्या की धमकी देते रहे. इसकी शिकायत पत्रकार ने कई बार पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह से की. लेकिन सत्ता के दबाव में पुलिस पूरी तरह से नतमस्तक रही. कार्यवाही न होने पर डीएम कन्नौज ने कड़ा रुख अपनाया जिसके बाद दबंग भाजपा नेता व दोनों शिक्षकों के खिलाफ सदर कोतवाली में मुकदमा अपराध 411 /19 आईपीसी की धारा 147 501 504 506 507 के तहत पंजीकृत हुआ.

15 जून को जब डीएम कन्नौज के कड़े रुख के बाद मुकदमा लिखा गया तो कन्नौज पुलिस ने सत्ता के आगे झुकते हुए पत्रकार पर दबाव बनाने व समझौता कराने के लिए दूसरे दिन भाजपा नेता के भांजे की तहरीर लेकर क्रास मुकदमा पत्रकार पर लिखवा दिया. पत्रकार पर बिना जाँच किये कुछ ही घंटो में क्रॉस मुकदमा लिखने से पुलिस से नाराज जिले के सभी टीवी व प्रिंट मीडिया के पत्रकारों ने विरोध जताया. कानपूर मंडल के आईजी व कमिश्नर से भी सभी जिले के नाराज टीवी व प्रिंट मीडिया के पत्रकारों ने कन्नौज पुलिस की भेदभावपूर्ण रवैये की शिकायत की.

सभी पत्रकारों का आरोप था कि कन्नौज पुलिस सत्ता के दबाव में आकर पीड़ित पत्रकार नित्य मिश्रा पर झूठा मुकदमा दर्ज किया. पत्रकारों ने कहा कि अगर पत्रकार खबर बनाकर किसी के काले कारनामे की पोल खोलता है तो क्या पुलिस पत्रकार पर ही मुकदमा लिख देगी? इस पर कानपूर मंडल के आई जी व कमिश्नर ने पत्रकारों को आश्वस्त करते हुए कहा कि उनके साथ न्याय होगा और पत्रकार पर सीधे बिना जांच के मुकदमा कैसे दर्ज हो गया, इसको देखा जायेगा।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “टीवी पत्रकार को धमकाने वाले भाजपा नेता और दो शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज

  • Surjeet Singh Tomar says:

    ज्यादा रकम वसूलने के लिए फर्जी कम्पनी ( गायत्री कम्युनिकेशन) के बिल लगाता है कन्नौज का यह नटवर लाल पत्रकार

    कन्नौज। खुद को डीडी न्यूज, एबीपी औऱ ईटीवी का पत्रकार बताने वाला नित्य मिश्रा इन दिनों अपनी काली करतूतों के कारण कन्नौज में काफी चर्चित है। हाल ही में एक अध्यापक से उगाही के प्रयास में दवाब बनाने के कारण उसके ऊपर तिर्वा कोतवाली में मुकदमा दर्ज है। अब एक औऱ मामला सामने आया है, जिसमें वह नटवर लाल साबित हो गया। नित्य मिश्रा व उसका भाई अमित मिश्रा(समाचार प्लस) विज्ञापन की रकम तय मूल्य से ज्यादा वसूलने के लिए एक फर्जी कम्पनी ( गायत्री कम्युनिकेशन)के नाम से सरकारी दफ्तरों में बिल जमा कर दिए और इसकी आड़ में निर्धारित रकम से ज्यादा की वसूली करता आ रहा है। और कंपनी का पता नोइडा सेक्टर 63 में दिखया है आपको बता दें जिस कम्पनी के नाम से यह सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओं को विज्ञापन का बिल देता, उसी नाम से नित्य मिश्रा के रूम के पास ही एक फोटो कॉपी औऱ इंटरनेट की दुकान है। लिहाजा इस फर्जीवाड़े का खुलासा होने से अब वह लोगों की नजरों में नटवर लाल साबित हो गया। कन्नौज के बाकी मीडिया के साथी भी उसके इस फर्जी बाड़े से सन्न रह गए हैं। मामले की जांच हुई तो धोखाधड़ी का एक मुकदमा उस पर और दर्ज हो जाएगा।

    Reply
    • Pramod singh says:

      कन्नौज के टिकरा प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक सुरजीत सिंह तोमर व गागेमऊ प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक विवेक सिंह तुम दोनों शिक्षक के नाम पर कलंक हो, जो स्कूल में शिक्षण कार्य न कर पिता जी के ठेकेदारी लायसेंस पर ठेकेदारी करते हो, स्कूल में दबाव बनाकर हाजिरी रजिस्टर में फर्जी साइन बनवाते हो। प्रधानध्यापिका शिकायत करती है तो सत्ता की हनक से उसको सस्पेंड करवा देते हो। अब सच्चाई से तुम लोगो ने पंगा लिया है। सब काले कारनामे एक एक कर सामने आएंगे। एक ईमानदार पत्रकार पर पेश बंदी में क्रॉस मुकदमा लिखवाकर सोच रहे जीत गए। अभी इंतजार करो फिर देखना सच की जीत झूठ पर कैसी होती है।

      एक कथित ब्लैकमेलर सुरजीत कुशवाहा के बताए रास्ते पर चल रहे हो एक दिन ये तुम सबको बर्बाद कर देगा। पहले इस ब्लैकमेलर सुरजीत कुशवाहा के बारे में पता कर लेना जो तुमको को शिक्षा दे रहा ये कितना बड़ा फ्रॉड है। एपीएन चैनल को इसका पैसा देता नही है पैसा देकर आई लाता है, कोई दूसरा रोजगार है नही इसके पास तो पैसा कहां से लाता है। अधिकारियों को डरा के धमका कर ब्लैकमेल करके। आजकल तुम लोगो से खूब वसूल कर रहा है। बड़े अखबारों में झूठी खबरें छपवा नही पाता है तो पोर्टल व छोटे चौपटिया अख़बार में छपवा देता है तुम लोगो से मोटी रकम ले लेता है । फिर तुम लोग उसकी अखबार की कटिंग फेस बुक पर डालते हो। हिम्मत हो तो अखबार का नाम भी डालो। पाप का घड़ा भर गया तुम लोगो का और उस घड़े को सुरजीत कुशवाहा ही फोड़ेगा। लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी होगी।
      शर्म नही आती पहले कन्नौज जिले की पूरी मीडिया को दलाल कहते हो फिर अब मीडिया के पास तेल लगा रहे पैसों का प्रलोभन दे रहे झूठी खबर छप जाए। अरे कन्नौज के जितने बड़े अखबार और चैनल में जितने भी पत्रकार है सब ईमानदार है। पैसों से सिर्फ सुरजीत कुशवाहा को खरीदो वही छोटे मोटे अखबार व पोर्टल में निकाल पायेगा झूठी खबर।
      नित्य मिश्रा की पत्रकारिता के बारे में जिले के आलाधिकारी व बड़े नेता सब जानते है।
      नित्य मिश्रा इतना ईमानदार है 12 साल हो गए कन्नौज में पत्रकारिता करते हुए सबसे बहुत अच्छे संबंध है लेकिन आज भी 2000 रुपये देकर किराए पर रहता है जबकी उसकी पत्नी बैंक में है बावजूद घर नही बना पाया। सरकार की योजनाओं की इतनी अच्छी खबरें बनाई है जिससे जिले का नाम रोशन हुवा। 5 भाई है नित्य मिश्रा 4 पत्रकार है सब अच्छी जगह पर है। सब ईमानदारी से पत्रकारिता करते है।
      एक ईमानदार पत्रकार पर झूठा आरोप लगा रहे उसकी छवि को खराब कर रहे हो । कोर्ट में आरोप साबित कर पाओगे।

      Reply
  • सुरजीत सिंह तोमर पहले अपने व अपने दलबदलू मामा के गिरेबान में झांक कर देखे। बेहरीन में प्रधान थे तुम्हारे मामा ने खूब विकास का पैसा हजम किया। सारे बिल आ गए है तुम शिक्षक हो पिता जी लाइसेंस पर ठेकेदारी करते हो खूब फर्जी बिल लगाते हो जिला पंचायत में निर्माण विभाग में । सब खुलेगा। मिड डे मिल का पैसा हजम करने को नही मिला तो तिलमिला गए। शर्म करो करो एक ईमानदार पत्रकार पर झूठे आरोप लगा रहे हो । कोर्ट में साबित कर पाओगे।
    मामा भाजपा का कथित दलबदलू नेता है भाजपा को बदनाम कर रहा है योगी जी मोदी जी की छवि को धूमिल कर रहा हैं बहुत जल्दी पार्टी से भी निकाला जाएगा। इंतजार करो तुम लोगो के काले कारनामो का घड़ा भर गया है।

    सुरजीत सिंह टिकरा प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक हो। मामा भाजपा का कथित नेता है तो सोच रहे सत्ता मेरे बाप की हो गई। स्कूल पढ़ाने नही जाते । बच्चो का मिड डे मील का पैसा नही खाने को मिला तो प्रधानध्यापिका को फर्जी मामले में सस्पेंड करा दिया। अभी उसकी भी जांच होगी।

    बहुत जल्दी तुम लोगो ने जो ठेकेदारी कर निर्माण कराया है एक एक कार्य की जांच होगी। उच्च स्तर से।
    ईमानदार पत्रकार पर झूठे मुकदमे लगवाए है सत्ता की हनक दिखाकर।

    Reply
  • सुरजीत सिंह तोमर पहले अपने व अपने दलबदलू मामा के गिरेबान में झांक कर देखे। बेहरीन में प्रधान थे तुम्हारे मामा ने खूब विकास का पैसा हजम किया। सारे बिल आ गए है तुम शिक्षक हो पिता जी लाइसेंस पर ठेकेदारी करते हो खूब फर्जी बिल लगाते हो जिला पंचायत में निर्माण विभाग में । सब खुलेगा। मिड डे मिल का पैसा हजम करने को नही मिला तो तिलमिला गए। शर्म करो करो एक ईमानदार पत्रकार पर झूठे आरोप लगा रहे हो । कोर्ट में साबित कर पाओगे।
    मामा भाजपा का कथित दलबदलू नेता है भाजपा को बदनाम कर रहा है योगी जी मोदी जी की छवि को धूमिल कर रहा हैं बहुत जल्दी पार्टी से भी निकाला जाएगा। इंतजार करो तुम लोगो के काले कारनामो का घड़ा भर गया है।

    सुरजीत सिंह टिकरा प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक हो। मामा भाजपा का कथित नेता है तो सोच रहे सत्ता मेरे बाप की हो गई। स्कूल पढ़ाने नही जाते । बच्चो का मिड डे मील का पैसा नही खाने को मिला तो प्रधानध्यापिका को फर्जी मामले में सस्पेंड करा दिया। अभी उसकी भी जांच होगी।

    बहुत जल्दी तुम लोगो ने जो ठेकेदारी कर निर्माण कराया है एक एक कार्य की जांच होगी। उच्च स्तर से।
    ईमानदार पत्रकार पर झूठे मुकदमे लगवाए है सत्ता की हनक दिखाकर।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *