Connect with us

Hi, what are you looking for?

प्रिंट

‘हिन्दुस्तान’ हल्द्वानी यूनिट : नई नियुक्तियों में पुराने ‘हिंदुस्तानियों’ को रखा गया हाशिये पर

हिंदुस्तान अखबार को हल्द्वानी से लांच करने का काम शुरू हो गया है। सितम्बर-अक्टूबर में हल्द्वानी यूनिट से हिंदुस्तान अखबार के प्रकाशन का काम भी शुरू हो जायेगा। तैयारी के तहत हिन्दुस्तान अखबार ने हल्द्वानी में कुछ नियुक्तियां की हैं। लेकिन इन नियुक्तियों में संपादक के खास आदमियों को तवज्जो दी जा रही है। हिन्दुस्तान अखबार कुमाऊ एडिशन में छः से आठ साल से कार्य कर रहें लोगों को हाशिये पर रखा जा रहा है।

<p>हिंदुस्तान अखबार को हल्द्वानी से लांच करने का काम शुरू हो गया है। सितम्बर-अक्टूबर में हल्द्वानी यूनिट से हिंदुस्तान अखबार के प्रकाशन का काम भी शुरू हो जायेगा। तैयारी के तहत हिन्दुस्तान अखबार ने हल्द्वानी में कुछ नियुक्तियां की हैं। लेकिन इन नियुक्तियों में संपादक के खास आदमियों को तवज्जो दी जा रही है। हिन्दुस्तान अखबार कुमाऊ एडिशन में छः से आठ साल से कार्य कर रहें लोगों को हाशिये पर रखा जा रहा है।</p>

हिंदुस्तान अखबार को हल्द्वानी से लांच करने का काम शुरू हो गया है। सितम्बर-अक्टूबर में हल्द्वानी यूनिट से हिंदुस्तान अखबार के प्रकाशन का काम भी शुरू हो जायेगा। तैयारी के तहत हिन्दुस्तान अखबार ने हल्द्वानी में कुछ नियुक्तियां की हैं। लेकिन इन नियुक्तियों में संपादक के खास आदमियों को तवज्जो दी जा रही है। हिन्दुस्तान अखबार कुमाऊ एडिशन में छः से आठ साल से कार्य कर रहें लोगों को हाशिये पर रखा जा रहा है।

 

Advertisement. Scroll to continue reading.

संपादक गिरीश गुरूरानी जी ने काफी समय से कार्य कर रहे पुराने लोगों की सैलरी नहीं बढ़ायी। हाल ही में मास कम्यूनिकेशन कर के आए कुछ खास लोगों को (जो अभी तक किसी भी अखबार में काम नहीं कर रहे थे) हल्द्वानी, काशीपुर, सितारगंज, रामनगर में सुपर स्ट्रींगर में भर्ती कर दिया। वह भी 12 से 15 हजार में। हिन्दुस्तान अखबार में छः सात सालों से काम कर रहे कुछ लोगों को 30 साल से अधिक की उम्र में कम्पनी में स्टाफर नहीं बन सकते के नियम का हवाला देते हुए स्टाफर बनाने से मना कर दिया है। और इसके ठीक विपरीत उत्तर उजाला पिथौड़ागढ़ में काम कर रहे 45 साल के व्यक्ति को रूद्रपुर में स्टाफर बना कर भेजा गया है। वहीं आठ सालों से काम कर रहें पुराने लोगों को 4 हजार सैलरी मिल रही है।

एक मीडियाकर्मी द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

0 Comments

  1. pramod dalakoti

    July 2, 2015 at 3:02 am

    are Sampadak Ji acha kaam kr rahe hai. Kyu tum logo k ander koi Creativity nahi h to tumhe kyu kre wo staffer. hme dekho

  2. Tarun

    July 3, 2015 at 3:04 am

    are chamche. jab tak sampad ji hindustan mai hai tab tak tu bhi hai jis din wo gye us din tera bhi patta saaf ho jayega. inta talent hai tere paas to amar ya jagran mai kyu nahi jata hai.

  3. mayank

    July 4, 2015 at 2:02 pm

    ha ha ha Chutiyo ki Foz karegi moZ ha ha ha

  4. pawan dhingra

    July 4, 2015 at 2:03 pm

    :-* :-* :-* :-* :-* 😉 😉 😉 😆 😆 😆 😮 😮 😮 😛 😛 😛

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : Bhadas4Media@gmail.com

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement