ऱाष्ट्रीय सहारा अखबार के पत्रकार ने गालीबाज विज्ञापन प्रबंधक के खिलाफ यूनिट हेड को लिखा पत्र

राष्ट्रीय सहारा अखबार के पटना संस्करण में कार्यरत पत्रकार प्रमोद कुमार ने यूनिट मैनेजर को एक पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने विज्ञापन प्रबंधक मदन कुमार पर सबके सामने गाली देने का आरोप लगाया है.

प्रमोद कुमार का आरोप है कि विज्ञापन विभाग द्वारा की गई गड़बड़ियों के खिलाफ छह अप्रैल को शिकायत दर्ज कराने से विज्ञापन प्रबंधक मदन कुमार नाराज थे. इसी कारण उन्होंने सार्वजनिक तौर पर गाली गलौज किया और अपशब्द का इस्तेमाल किया.

प्रमोद कुमार का कहना है कि विज्ञापन प्रबंधन द्वारा की गई बदतमीजी के गवाह के रूप में ब्यूरो चीफ, लोकल चीफ रिपोर्टर समेत रिपोर्टिंग व डेस्क से जुड़े तमाम कर्तव्ययोगियों से बात की जा सकती है.

प्रमोद का कहना है कि वे संस्थान से 14 वर्षों से जुड़े हुए हैं और उन पर आजतक कोई आरोप नहीं लगा है. विज्ञापन प्रबंधक द्वारा गाली गलौज किए जाने से वे काफी आतंकित और आहत हैं.

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “ऱाष्ट्रीय सहारा अखबार के पत्रकार ने गालीबाज विज्ञापन प्रबंधक के खिलाफ यूनिट हेड को लिखा पत्र

  • हरि ओम झा says:

    इस खेल में ब्रजेश कुमार संपादकिय विभाग एवं राम प्रवेश शर्मा विज्ञापन विभाग का हाथ है।
    पुरा मामला मदन कुमार को परेशान करने का है। कारण कि कल्प आइएएस एकेडमी का विज्ञापन छपने पर ब्रजेश एवं शर्मा द्वारा पार्टी को गलत फोन कराया गया कि मैं पटना लोकल एजेन्ट बोल रहा हूँ। अखबार बिकता कितना है कि विज्ञापन दिये हैं।
    चुकि प्रमोद जी की पकड़ शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा है। इसीलिए पुरे मामले को प्रमोद जी के तरफ मोड़ दिया गया है।
    चुकि ब्रजेश का स्थानीय सम्पादक से 36 का आंकड़ा है। इसीलिए वह किशोर केशव से वर्षों पुरानी दुश्मनी भुला कर गलबहियाँ कर रहा है।
    और शर्मा पुनः यह जुगाड़ में है कि मदन की कुर्सी पकड़ लें।

    Reply
  • INSAF SAHARIYAN says:

    ye sab Patna ke sthaniya sampadak ki khurpench politics ke karan ho raha hai. Andar ki baat hai ki sthaniya sampadak ne Pramod Kumar ko shikayat ke liye uksaya. Sthaniya sampadak ka patna ki unit head se nahi banta hai. usi tarah unit head ka sthaniya sampadak se nahin banta hai. Dono ki katuta ka khamiyaja Rashtriya sahara ko bhugtna par raha hai. Sthaniya sampadak aur unit head ke khilaf patna me kayi janch kamiti gathit huyi. Dono ne ro gakar varishth ko samjha diya. Ek ne beti ki byah ka rona roya. Halanki wah 5 varshon se beti ki byah ka rona ro raha hai. khair rone ki hunar hamesha kaam aati hai. isliye janch kamiti bhi duvidha me par jati hai aur ant me sansthan bhugata hai. Pramod kumar ka bhi mamla usi ka hissa hai. Pramod ka mamla maafiname ke saath salat gaya tha par sthaniya sampadak ne hathiyad bana liya hai. sthaniya sampadak ko beti byah ke rone gane par 6 mahine ka extension kisi tarah mil gaya hai par wah aage ki extension niti par kaam kar rahe hai. NITI KE TAHAT SABHI VARISHTH KE KHILAF SAJISH RACHI JA RAHI HAI.

    Reply
  • हरि ओम झा says:

    बकवास है।
    सब आर पी शर्मा और ब्रजेश का साजिश है।
    विज्ञापन को बर्बाद करने का।

    Reply
  • हरि ओम झा says:

    सब बकवास है।
    यह आर पी शर्मा और ब्रजेश का साजिश है।
    विज्ञापन को अस्थिर करने का।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *