नफ़रती टीवी चैनलों के लाइसेंस सस्पेंड कर मूर्ख एंकर-एंकरनियों पर एनएसए लगे!

अनिल जैन-

भाजपा ने पैगम्बर हजरत मुहम्मद के बारे में बेहूदा टिप्पणी करने वाले अपने दो बदतमीज प्रवक्ताओं को फौरी तौर पर पार्टी से निलंबित कर दिया है, लेकिन यह काफी नहीं हैं।

सरकार को चाहिए कि वह उन सभी टीवी चैनलों के लाइसेंस सस्पेंड करते हुए उनके मूर्ख एंकर- एंकरनियों के खिलाफ भी यूएपीए या एनएसए के तहत प्रकरण दर्ज करे जो दिन-रात सांप्रदायिक और जातीय नफरत फैलाने में लगे रहते हैं।

सरकार को उन महंतों और मौलानाओं के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई करना चाहिए जो दो-दो हजार रुपए के लालच में इन टीवी चैनलों पर गालियाँ सुनने-सुनाने चले आते हैं और नफरत फैलाने का काम करते हैं।

नफरत फैलाने के धंधे लगे इन्हीं सब लोगों की वजह से आज अरब देशों में भारत और भारतीय प्रधानमंत्री के खिलाफ अतिवादी और अपमानजनक प्रतिक्रियाएं जताई जा रही हैं। खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों के साथ जैसा भद्दा सुलूक किया जा रहा है, वह अभूतपूर्व है।

अरब देशों की सरकारें अपने यहां स्थित भारतीय दूतों को तलब करके उन्हें जलील कर रही हैं और भारतीय दूत हकलाते हुए सफाई दे रहे हैं।

आशंका इस बात की भी है कि इन अरब देशों में वर्षों से रह रहे लाखों भारतीय भी आने वाले समय में क्रिया की प्रतिक्रिया के शिकार हो सकते हैं।

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “नफ़रती टीवी चैनलों के लाइसेंस सस्पेंड कर मूर्ख एंकर-एंकरनियों पर एनएसए लगे!

  • Daya chand yadav says:

    क्या ऐसा संभव है? इनको न विदेश नीति की समझ है, ना विदेश नीति की। पूरा बेड़ा गर्क कर दिया। मनमोहन की सरकार के समय लोगों की जेब में पैसे आए थे। इस सरकार ने लोगों की जेब से पैसे निकाल लिए। अटल और सुषमा तक भाजपा का काम ठीक रहा। ये सरकार फ्री का चूरन बांट रही है, लोग इसी में मस्त हैं। फ्री
    शिक्षा और इलाज की बात कोई नहीं कर रहा है।

    Reply
  • Ravindra nath kaushik says:

    संबंधित विषय पर कुछ पढ़-लिख कर ही लफ्फाजी किया करो। पैगम्बर के बारे में उन्ही के अनुयायियों के लिखी और संकलित को कोट करना किस एंगल से ग़लत हो गया?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code