सेबी के फैसले के खिलाफ सैट में अपील करेगी पीएसीएल

मीडिया में आई खबरों को लेकर पीएसीएल के प्रवक्ता द्वारा जारी बयानः

पीएसीएल ने माननीय सेबी की पीठ के सामने निवेदन किया था कि कंपनी सामूहिक निवेश योजना (कलैक्टिव इन्वैस्टमेंट स्कीम, सीआईएस) संचालित नहीं कर रही है। अग्रेतर, कंपनी के पास स्थावर संपदा(रियल एस्टेट) व्यापार के लिए इकट्ठा किए धन के मुकाबले में पर्याप्त संपत्ती है। दुर्भाग्यपूर्ण रूप से सेबी कंपनी के निवेदन को स्वीकार करने में नाकाम रहा कि उसको सीआईएस नहीं माना जा सकता। कंपनी अब इस निर्णय के खिलाफ प्रतिभूति अपीलीय अधिकरण(सिक्योरिटीज़ ऐप्पेलेट ट्राइब्यूनल, सैट) में अपील करेगी।

पीएसीएल अपने ग्राहकों को याद दिलाना चाहेगा कि कंपनी ने हमेशा उनके हितों को सर्वोपरि रखा है औऱ आगे भी ऐसा ही किया जाता रहेगा। हम अपने ग्राहकों को यकीन दिलाना चाहते हैं कि उनके निवेश और हित पूरी तरह सुरक्षित हैं।

PACL statement:

PACL limited, in its submission to the Honourable SEBI bench had submitted that it is not running a CIS. Further, the company has sufficient asset holdings vis-a-vis the money raised for its real estate business. SEBI has unfortunately failed to recognize the submissions of the company that it can’t be treated like a CIS. The company would now appeal this order before the Securities Appellate Tribunal. PACL limited would also like to remind its customers that it has always kept their interest paramount and would continue to do so. We assure our customers that their investments are safe & their interests would not be jeopardized.

उधर मुंबई से ख़बर है कि पीएसीएल के एक निवेशक ने मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा में कंपनी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की प्रारंभिक जांच कर रही है। जांच के बाद तथ्य सामने आने पर पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर सकती है या फिर मामले को सीबीआई के पास भेज सकती है। सीबीआई पहले से ही इस मामले को देख रही है।

सीबीआई ने इस साल फरवरी में पीएसीएल के प्रवर्तकों और उसकी सहायक फर्म पीजीएफ लि. के खिलाफ आपराधिक षडयंत्र और छल का मामला दर्ज किया था।

 

इसे भी पढ़ेंः

पीएसीएल के प्रति नरम क्यों है सेबी?

 

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “सेबी के फैसले के खिलाफ सैट में अपील करेगी पीएसीएल

  • Surendra Kumar says:

    My Name Surendra Kumar My Work June 2008 To July 2010 PACL Company Agent My Work 4,00,000/- My Machorty Dec. 2013 ha But Amount Till Date tak Recive Nahi Hua ha

    Reply
  • Surendra Kumar punia says:

    “पीएसीएल ने माननीय सेबी की पीठ के सामने निवेदन किया था कि कंपनी सामूहिक निवेश योजना (कलैक्टिव इन्वैस्टमेंट स्कीम, सीआईएस) संचालित नहीं कर रही है। अग्रेतर, कंपनी के पास स्थावर संपदा(रियल एस्टेट) व्यापार के लिए इकट्ठा किए धन के मुकाबले में पर्याप्त संपत्ती है। दुर्भाग्यपूर्ण रूप से सेबी कंपनी के निवेदन को स्वीकार करने में नाकाम रहा कि उसको सीआईएस नहीं माना जा सकता। कंपनी अब इस निर्णय के खिलाफ प्रतिभूति अपीलीय अधिकरण(सिक्योरिटीज़ ऐप्पेलेट ट्राइब्यूनल, सैट) में अपील करेगी।

    पीएसीएल अपने ग्राहकों को याद दिलाना चाहेगा कि कंपनी ने हमेशा उनके हितों को सर्वोपरि रखा है औऱ आगे भी ऐसा ही किया जाता रहेगा। हम अपने ग्राहकों को यकीन दिलाना चाहते हैं कि उनके निवेश और हित पूरी तरह सुरक्षित हैं।”
    ye baat galat ha ki aap log रियल एस्टेट ka kam karte ha or karte ha to aapke pas sufficient asset jamin hi honi chahiy thi ye hotel, news chenal, megjin, pariyatak, ye chije kaha se aai main bat ye ha ki 2011 me jawaliyar se news aai ki PACL me 45,000/- cr. ka ghotala to logo ko laga ki company bhag jaygi jis vajah se logo ne apana pesa refuned ke liye aavedan kar diya or company anni sakh bachane ke chakar me logo ko pement kar diya jo pesa company ke pas cash tha vo logo bat chuka or ab company ke pas cash pesa ha nahi or apni proparti company bechana nahi chahati ha or vo proparty bhi 50,000 cr. ki nahi ha ye vade to sahara india ne bhi kiye the aaj sakara india 10,000 cr. rupes nahi juta pa raha ha to pacl 50,000cr. kaha se jotayga

    Reply
  • Deepak B. Gupta says:

    Me Mumbai se hu…mere papa PACL K Ajjent the ,Unhone ghar k lagbhag 8lakh or custmer k lagbhag 9lakh is company m invest karvaye h…or ab log har roj hamare ghar akar jhagde kar rahe h hame kafi taklif ho rahi h is company k chalte bahut taklif ho rahi h …m khud prees m job par hokar bhi kuch kar nahi pa raha hu …mujhe is company k khilaf action lena h…so plz….help me….deepak gupta8652831888

    Reply
  • Me savi & CBI se apeel karta hu ki aap public ka rupeya jaldi se jaldi total lotane ka kast kare jo pura hai vo bhe aur jo pura nahi hai vo bhi. agar asa jaldi nahi hu to bahut log atmhattiya kar lege.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code