फिल्म पत्रकार प्रदीप सरदाना ने बनाया न्यूज चैनलों पर लाइव रहने का रिकार्ड

नयी दिल्ली : वरिष्ठ पत्रकार, फिल्म समीक्षक और टीवी पेनलिस्ट श्री प्रदीप सरदाना ने चार दिनों में सर्वाधिक समय तक राष्ट्रीय न्यूज़ चैनल्स पर लाइव रहकर प्रतिष्ठित ‘इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स’ में अपना रिकॉर्ड दर्ज कराया है.

सरदाना ने यह रिकॉर्ड चार दिन में 52 घंटों तक 6 राष्ट्रीय न्यूज़ चैनल्स एबीपी न्यूज़, आज तक, ज़ी न्यूज़, इंडिया न्यूज़, ज़ी हिंदुस्तान और न्यूज़ 24 पर लाइव रह कर बनाया. जब वह 25 से 28 फरवरी 2018 तक लोकप्रिय अभिनेत्री श्रीदेवी पर अपने विचार लगातार प्रस्तुत करते रहे. वह इन चार दिंनों में सुबह 7 बजे से रात 12 बजे तक लगातार, लगभग 13 घंटे प्रतिदिन की औसत से न्यूज़ चैनलों पर लाइव उपस्थित रहे.

उनका यह अनूठा रिकॉर्ड वरिष्ठ पत्रकार, फिल्म समीक्षक और टीवी पेनलिस्ट के नाते इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स के 2019 संस्करण में दर्ज हुआ है. इन चैनल के अलावा सरदाना ज़ी बिज़नेस और इंडिया टीवी पर भी उपस्थित रह कर श्रीदेवी के निधन पर अपने विचार प्रस्तुत किये. इन दिनों में उन्होंने श्रीदेवी के अभिनय और शख्सियत पर सिर्फ अपने विचार और विश्लेषण ही प्रस्तुत नहीं किया, बल्कि ‘भारतीय सिनेमा की चांदनी’ के साथ अपनी मुलाकातों की बहुत सी यादें भी साझा कीं. श्री सरदाना के ये कार्यक्रम न सिर्फ सबसे ज्यादा देखे गए, बल्कि दर्शकों द्वारा बेहद सराहे भी गए.

मात्र 13 वर्ष की आयु से पत्रकारिता का अपना सफ़र शुरू करने वाले दिल्ली निवासी पत्रकार श्री प्रदीप सरदाना 44 वर्षों से पत्रकारिता में हैं. इस दौरान वह देश के कई प्रतिष्ठित प्रकाशन समूह जैसे टाइम्स ऑफ़ इंडिया, हिन्दुस्तान टाइम्स, इंडिया टुडे के साथ एक लम्बे समय तक कार्य करते रहे, साथ ही दैनिक जागरण, राजस्थान पत्रिका, दैनिक भास्कर, आज और अमर उजाला जैसे कई प्रतिष्ठित समाचार पत्रों से भी जुड़े रहे. 17 वर्ष की आयु में समाचार पत्र ‘पुनर्वास’ की शुरुआत करके, वह देश के सबसे कम उम्र के सम्पादक भी हैं. इसके साथ ही टीवी पर नियमित पत्रकारिता की शुरुआत करने के लिए भी श्री सरदाना जाने जाते हैं.

वर्तमान में श्री सरदाना प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और ऑनलाइन मीडिया के साथ कार्यरत हैं, और नवभारत टाइम्स, दैनिक ट्रिब्यून, लोकमत समाचार, हरि भूमि, दैनिक भास्कर और पाञ्चजन्य आदि के लिए लिखते हैं. साथ ही सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (भारत सरकार) की पत्रिकाएं- आजकल, योजना और बाल भारती के साथ ‘पत्र सूचना कार्यालय’ के लिए भी लिखते रहे हैं. एबीपी न्यूज़ ऑनलाइन और बीबीसी न्यूज़ ऑनलाइन के लिए भी नियमित रूप से लिखते हैं और सभी प्रमुख राष्ट्रीय न्यूज़ चैनल्स के साथ श्री सरदाना डिबेट पेनलिस्ट और सिनेमा विशेषज्ञ के रूप में जुड़े हैं. साथ ही आकाशवाणी की विदेश प्रसारण सेवा, एफएम गोल्ड और एफएम रेनबो के साथ भी कार्यक्रम करते रहते हैं. जाने माने स्तंभकार श्री सरदाना पिछले 26 वर्ष से ‘पुनर्वास’ साप्ताहिक के सम्पादक भी हैं.

आम आदमी की खास गायकी सुनेंगे तो दंग रह जाएंगे…

आम आदमी की खास गायकी सुनेंगे तो दंग रह जाएंगे… ये आम लोग हैं जो बड़े खास अंदाज़ में गुनगुनाते हैं, सुनेंगे तो सुनते रह जाएंगे… ये जनता है, गाती है तो दिल से… आप सुनिए भी दिल से.. सामान्य लोगों के भीतर गायकी के कुछ असामान्य कीड़े होते हैं जो गाहे बगाहे प्रकट हो जाते हैं… ऐसे ही कुछ आम लोगों की गायकी को इस वीडियो में संयोजित किया गया है. कोई पत्रकार है, कोई बिदेसिन है, कोई समाज सेवी है तो कोई एक्टिविस्ट है. इनमें गायकी की प्रतिभा जन्मना है, कोई ट्रेनिंग नहीं ली इनने. कोई अवधी गा रहा, कोई भोजपुरी गुनगुना रहा, कोई अंग्रेजन छठ का गीत गा रही, कोई पत्रकार क्लासिकल गुनगुना रहा… क्या ग़ज़ब टैलेंट है.. सुनिए और आनंद लीजिए…

Bhadas4media ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಗುರುವಾರ, ಜನವರಿ 31, 2019
कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *