चीफ सब एडिटर पद पर कार्यरत इस महिला पत्रकार ने अमर उजाला से दिया इस्तीफा

कोरोना संक्रमण से पत्रकारों की न केवल जान जा रही है, बल्कि वे संक्रमण के डर से तनाव में भी जी रहे हैं। इनमें ज्यादातर वे हैं, जिन्हें आफिस जाकर काम करना पड़ रहा है। देहरादून के मीडिया संस्थानों में 10 से अधिक पत्रकार कोरोना के शिकार हुए हैं।

अमर उजाला, देहरादून में कार्यरत चीफ सब एडिटर प्रवेश कुमारी ने करीब डेढ़ माह घर पर रहने के बाद इस्तीफा दे दिया। बताया जाता है कि वे जहां किराए पर रहती हैं वहां की मकान मालिक की बेटी की कोरोना से मौत हो जाने के बाद उन्हें होम क्वारंटीन किया गया था। सूत्रों का कहना है कि इस परिघटना के बाद से प्रवेश डिप्रेशन में थीं। उधर उन पर ऑफिस आकर काम करने का दबाव बनाया जा रहा था।

अमर उजाला में ही सिटी डेस्क पर काम करने वाले एक सीनियर सब एडिटर की हालत कुछ ठीक नहीं। उन्हें कोरोना संक्रमण के बाद सांस लेने में दिक्कत की वजह से अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

अमर उजाला में हरिद्वार और ऋषिकेश डेस्क पर काम करने वाले दो जूनियर सब एडिटर भी कोरोना संक्रमण के बाद कोविड सेंटर में भर्ती रहे, जिसके बाद उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है।

दैनिक जागरण में भी छह लोग कोरोना संक्रमित हुए, जिनमें से एक कैमरा मैन ड्यूटी पर लौट आए हैं, बाकी अभी होम आइसोलेशन में हैं।

हिंदुस्तान के कोरोना संक्रमित साथी ठीक होकर फील्ड में लौट आए हैं।



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code