मोदी सरकार घटियापन दिखाने में रोज अपने ही रिकॉर्ड तोड़ती नजर आती है, देखें ये कांड

गिरीश मालवीय-

साल 2013 में मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार सत्ता में थी, उसने रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी को जेड प्लस सुरक्षा देनी चाही इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के फैसले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि….. ‘ऐसे व्यक्तियों को सुरक्षा क्यों प्रदान की जा रही है जबकि आम आदमी खुद को असुरक्षित महसूस कर रहा है’।

आज 2022 में जेल से फरलो पर छूटे एक दुर्दांत अपराधी राम रहीम को मोदी सरकार जेड प्लस सुरक्षा दे रही है, लेकिन सब मुंह में दही जमाकर बैठे हुए हैं

देश में इस वक्त मात्र 40 लोगो को ही जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की जा रही है इस श्रेणी की सुरक्षा में 36 सुरक्षाकर्मी सेवा में तैनात किए जाते हैं. जिनमें एनएसजी के 10 कमांडोज भी शामिल होते हैं इन कमांडोज को अत्याधुनिक हथियारों के साथ तैनात किया जाता है. इसमें तीन घेरे में सुरक्षा की जाती है. पहले घेरे में एनएसजी सुरक्षा में लगाए जाते हैं, इसके बाद एसपीजी के अधिकारी तैनात किए जाते हैं और इसके साथ ही आईटीबीपी और सीआरपीएफ के जवान भी सुरक्षा में लगाए जाते हैं.

आप सोचकर देखिए कि ऐसी सुरक्षा एक ऐसे अपराधी को दी जा रही है जिसने रेप और मर्डर जैसे जघन्य अपराध किए हैं !…..

राम रहीम अपनी मृत्यु तक जेल में रहेगा उसे डेरा प्रबंधक रंजीत सिंह की हत्या के मामले में उम्रकैद, पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या में उम्रकैद और अपने आश्रम में आने वाली श्रद्धालु लडकियों से बलात्कार करने के जुर्म में 20 साल जेल की सजा सुनाई जा चुकी है

रेप के प्रकरण में फैसला देते वक्त सीबीआई अदालत के जज ने कहा कि एक ऐसे व्यक्ति को नरमी पाने का कोई हक नहीं है जिसे न तो इंसानियत की चिंता है और न ही उसके स्वभाव में दया-करूणा का कोई भाव है. उन्होंने कहा कि किसी धार्मिक संगठन की अगुवाई कर रहे व्यक्ति की ओर से किए गए ऐसे आपराधिक कृत्य से देश में सदियों से मौजूद पवित्र आध्यात्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक संस्थाओं की छवि धूमिल होना तय है.

मात्र अपने राजनीतिक हित साधने के मोदी सरकार ऐसे अपराधी को जेल से निकालती है और उसे जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा देती हैं, ताकि वह अपने अनुयायियों को बीजेपी को वोट देने की अपील कर दे, हरियाणा की बीजेपी सरकार कहती है कि राम रहीम कट्टर अपराधी नहीं है अगर दो दो मर्डर और रेप का आरोपी कट्टर अपराधी नही है तो कट्टर अपराधी आप किसे कहेंगे ?

मोदी सरकार घटियापन दिखाने में रोज अपने ही रिकॉर्ड तोड़ती नजर आती है।


अमित चतुर्वेदी-

चुनाव के ठीक पहले जेल से छुट्टी पर बाहर घूम रहे राम रहीम को केंद्र सरकार ने Z+ सिक्यरिटी दी है…

अब इस बात पर लोग हमारे मोदी जी को ऊटपटाँग कहना चालू हो जाएँगे…ये अंध विरोधी कहेंगे कि एक तरफ़ मोदी जी बेटी बचाओ का नारा देते हैं और दूसरी तरफ़ हत्या और बलात्कार के आरोपी को Z+ सिक्यरिटी देते हैं…

ऐसे लोगों को मैं बताना चाहूँगा कि ये असल में बेटी बचाने की दिशा में मोदी जी का मास्टरस्ट्रोक ही है…

दरअसल बात ये है कि देश के करोड़ों बच्चियों को तो Z+ सुरक्षा दी नहीं जा सकती, तो प्रधानमंत्री मास्टरस्ट्रोक योजना के अंतर्गत बलत्कारियों को Z+ सिक्यरिटी दी जा रही ताकि ऐसे बलात्कारी निगरानी में रहें।

वाह मोदी जी वाह!


विजय शंकर सिंह-

राम रहीम को जेड Z+ श्रेणी सुरक्षा. बलात्कार के मामले में सजायाफ्ता राम रहीम को सरकार ने Z+ श्रेणी की सुरक्षा दी है। कहा जाता है कि इसे खालिस्तानी आतंकियों से खतरा है। 8 साल में यह भी एक नया विकास है कि समाप्त हो चुके खालिस्तानी आतंकी फिर से खुफिया एजेंसियों को दिखने लगे हैं। रहा सवाल सुरक्षा का तो सुरक्षित रहने का अधिकार, हर नागरिक की तरह राम रहीम को भी है। पर जब इसे खतरा है और खतरे का अनुमान (थ्रेट परसेप्शन) इतना है कि, इसे जेड Z+ श्रेणी की सुरक्षा देनी पड़ रही है तो सरकार इसे फरलो पर बाहर क्यों रखे हुए हैं ? सरकार को चाहिए कि इसकी फरलो रद्द कर इसे जेल भेज दे। ऐसे गम्भीर थ्रेट परसेप्शन को देखते हुए, जेल से सुरक्षित जगह इस व्यक्ति के लिये तो बाहर नहीं ही होगी।


मनीष दुबे-

किसी को कहने बताने की जरूरत नहीं है बल्कि दिख रहा है. पंजाब चुनाव से पहले राम रहीम को ज़मानत दी गई. जाहिर सी बात है इससे सत्ता को फायदा मिलेगा. खुद को गंगाजल बताने वाली बीजेपी के सभी अवतारी बलात्कारी बाबा का आशीर्वाद ले रहे हैं. इनके पितामह दूर से ही बैठकर माला जप लेते हैं. मजाल है जो कोई अदालत पर उंगली उठा दे. सिद्दीकी कप्पन, अमिताभ ठाकुर इत्यादि ने पाकिस्तान के इशारे पर यूपी के 75 शहरों में RDX लगाकर सीरियल ब्लास्ट किये थे जो उन्हें जमानत नहीं दिलवाई जा रही है. टेनी के लौंडे के लिए तो शब्द भी तमाम फीके हैं.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code