सरफ़राज़ सैफ़ी बने ‘न्यूज़ इंडिया’ के एडिटर इन चीफ़, लॉन्चिंग की तैयारी पूरी

सरफ़राज़ सैफ़ी ने हिंदी नेशनल न्यूज़ चैनल न्यूज़ इंडिया के एडिटर इन चीफ का पद संभाल लिया है। सरफ़राज़ सैफ़ी पिछले काफी वक्त से न्यूज़ इंडिया की टीम तैयार करने में जुटे थे। उन्होंने न्यूज़ इंडिया में आउटपुट और इनपुट की बेहतरीन टीम तैयार की है। सरफ़राज़ सैफ़ी से जब हमने बात की तो उन्होंने न्यूज़ इंडिया की जिम्मेदारी संभालने की बात की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि चैनल की लॉन्चिंग की तैयारी पूरी हो चुकी है। ड्राय रन शुरू हो चुका है और जल्द ही चैनल राष्ट्र की आवाज़ बन कर लोगों के बीच होगा।

सरफ़राज़ सैफ़ी इससे पहले ज़ी हिंदुस्तान के सुपर प्राइम टाइम शो राष्ट्रवाद के एंकर के तौर पर बड़ी पहचान बना चुके हैं। सरफ़राज़ सैफ़ी ने नॉन स्टॉप राष्ट्रवाद के 200 एपिसोड कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है। सरफ़राज़ ऐसे एंकर हैं जो फील्ड और स्टूडियो दोनों जगह अपने अंदाज से अलग छाप छोड़ते हैं। सरफराज़ सैफ़ी न्यूज़ ब्रेक करने के अपने स्टाइल को लेकर मशहूर हैं। उन्होंने सड़क से लेकर संसद तक रिपोर्टिंग की है। देश के अलग अलग इलाको में जाकर लोगों की समस्याएं करीब से देखीं, समझीं और उन्हें रिपोर्ट किया है।

सरफ़राज़ सैफ़ी ने अपने पत्रकारिता करियर की शुरुआत बतौर इंटर्न की थी। बतौर ट्रेनी क्राइम रिपोर्टर इन्होंने आजतक के साथ काम किया। कई चैनलों में इन्होंने शानदार रिपोर्टिंग, आउटपुट और एंकरिंग के जरिए एक धार बनाई। टेलीविजन इंडस्ट्री में फील्ड और स्टूडियो में स्मार्ट वर्क करने के लिये मशहूर सरफ़राज़ सैफ़ी को डेढ़ दशक से ज्यादा का अनुभव है। टीवी न्यूज़ इंडस्ट्री के हर काम को बारीकी से जानने वाले सरफ़राज़ इकलौते ऐसे एंकर हैं, जिन्होंने दिन-रात मेहनत कर एडिटर इन चीफ और सीईओ तक की सीढियाँ चढ़ीं। पत्रकारिता के साथ-साथ इन्होंने कॉरपोरेट दुनिया में भी अपनी एक पहचान बनाई और नाम कमाया ।

टीवी इंडस्ट्री में सरफराज़ सैफ़ी अलग-अलग चैनलों में प्राइम टाइम प्रमुख एंकर के अलावा कई अहम और सीनियर पदों पर भी ज़िम्मेदारी निभा चुके हैं। सरफ़राज़ सैफी ने देश के पहले रीजनल चैनल एस वन, नेशनल टीवी आज़ाद न्यूज़, देश के पहले HD न्यूज़ चैनल न्यूज़ एक्सप्रेस, महुआ ग्रुप, समाचार प्लस जैसे कई चैनलों की सफल लॉन्चिंग में अहम भूमिका निभाई। बतौर वाइस प्रेसिडेंट सुधाकर शेट्टी के जय महाराष्ट्र और भास्कर न्यूज़ की शानदार लॉन्चिंग और ब्रांडिंग की। ख़बरों को लेकर उनके पैशन और नजरिये की चर्चा भी खूब हुई।

ज़ी मीडिया ग्रुप के ज़ी हिन्दुस्तान को जब- रिलॉन्च किया गया तो सरफ़राज़ सैफ़ी को रात 9 बजे के प्राइम टाइम शो राष्ट्रवाद की जिम्मेदारी सौंपी गई। उन्होंने टेलीविजन इंडस्ट्री के तमाम दिग्गजों के बीच रात 9 बजे की फाइट में अपना स्पेस तैयार किया, अपनी ख़ास पहचान बनाई, शो के जरिए राष्ट्रवाद को घर-घर तक पहुंचा दिया। इसका फायदा सरफ़राज़ सैफ़ी के साथ-साथ ज़ी हिन्दुस्तान को भी मिला।

सरफ़राज़ सैफ़ी टीवी इंडस्ट्री में कॉरपोरेट स्टाइल में वर्क के लिए जाने जाते हैं। वे उन-गिने चुने पत्रकारों में हैं, जो काफी कम उम्र में नेशनल मीडिया हाउस के वाइस प्रेसिडेंट कॉरपोरेट की ज़िम्मेदारी सफलतापूर्वक निभा चुके हैं। अब उन्होंने न्यूज़ इंडिया के एडिटर इन चीफ़ कम सीईओ का पद संभाला है।

सरफ़राज़ सैफ़ी की राजनैतिक गलियारों से लेकर ब्यूरोक्रेसी तक हर कोने की ख़बरों पर शानदार पकड़ है। इन्होंने पिछले दो दशकों में देश और राज्यों में होने वाले कई चुनावों को कवर किया है। यूपी, उत्तराखंड, राजस्थान, बिहार और बंगाल के चुनाव में महीनों ग्राउंड ज़ीरो से रिपोर्टिंग की। बंगाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और होम मिनिस्टर अमित शाह की सबसे ज़्यादा रैलियां कवर की। 2012 में अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे, ये खबर सबसे पहले सरफराज़ ने ब्रेक की थी। इसी तरह राजनीतिक गलियारों की कई बड़ी ख़बरें ब्रेक की हैं। कश्मीर में आतंक का दौर रहा हो या फिर बदली हुई फिजा…. सरफ़राज़ अपनी कैमरा टीम के साथ बिना किसी ख़ौफ़ के घाटी तक पहुंचे और शानदार कवरेज की। नोएडा का निठारी कांड हो या आरूषि हत्याकांड जैसी कई ख़बरें हैं, जहां सरफ़राज़ ने इन्वेस्टिगेटिव और एक्सक्लूसिव स्टोरीज कीं।

सरफ़राज़ सैफ़ी ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म में पोस्ट ग्रेजुएशन किया। इसके अलावा सरफ़राज़ ने कानून की पढ़ाई की है। उन्हें देश विदेश में पत्रकारिता और कॉरपोरेट जगत में अच्छे काम के लिए कई अवॉर्ड मिल चुके हैं। सरफ़राज़ सैफी ने 2007 में नेशनल टेलीविज़न जर्नलिज़्म अवॉर्ड (बेस्ट क्राइम रिपोर्टर) और 2010 में राजीव गांधी ग्लोबल एक्सीलेंस अवॉर्ड (बेस्ट यूथ एंकर) हासिल किया।

इंडिया यूथ आइकॉन से लेकर एस पी सिंह मीडिया यंग अचीवमेंट अवॉर्ड जैसे कई बड़े खिताब इनकी झोली में आ चुके हैं। सरफराज़ सैफ़ी को दुबई में होने वाले सबसे बड़ा अवार्ड समारोह World Brad Summit 2016 में इंडिया की तरफ़ से यंग एंकर और कॉरपोरेट पर्सन का अवॉर्ड मिल चुका है। थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक में होने वाले एशियन जर्नलिस्ट अवार्ड-2017 का सम्मान भी ये हासिल कर चुके हैं।

आपको बता दें सरफ़राज़ सैफ़ी और न्यूज़ इंडिया की टीम की चर्चा काफी दिनों से मीडिया इंडस्ट्री में हो रही है। न्यूज़ इंडिया के मैनेजिंग एडिटर पशुपति शर्मा, एडिटोरियल डायरेक्टर मनीष अवस्थी, क्रिएटिव हेड अतुल दयाल, सीनियर एग्जीक्यूटिव एडिटर सैयद उमर , आउटपुट हेड रंजेश शाही, एग्जीक्यूटिव एडिटर आशीष सिंह, एडिटर करेंट अफेयर्स अर्चना सिंह जैसे बड़े नामों के साथ मिलकर सैफ़ी ने ग्रैंड लॉन्चिंग की तैयारी पूरी कर ली है।

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करें. वेबसाइट / एप्प लिंक सहित आल पेज विज्ञापन अब मात्र दस हजार रुपये में, पूरे महीने भर के लिए. संपर्क करें- Whatsapp 7678515849 >>>जैसे ये विज्ञापन देखें, नए लांच हुए अंग्रेजी अखबार Sprouts का... (Ad Size 456x78)

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें- Bhadas WhatsApp News Alert Service

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *