बड़े टीवी में मत जाओ, मोबाइल पर खबर देने वाला काम करो!

शेष नारायण सिंह-

टीवी पत्रकारिता में ग़लतबयानी का रिकॉर्ड बन रहा है। अफसोस कि मैं भी उसमें शामिल हूं। कुछ और करना पड़ेगा। आज गांव में एक शुभचिंतक ने सलाह दी कि बड़े टीवी में मत जाओ, मोबाइल पर खबर देने वाला काम करो, वहां बहस सही होती है।

मुझे लगता है कि प्रिंट, रेडियो और टेलीविजन के रास्ते जो कुछ भी हासिल किया है, उसको अब यूट्यूब चैनलों की बहस में शामिल होकर आगे बढ़ाऊं।

टीवी पत्रकारिता की विश्वसनीयता रसातल की तरफ बढ़ रही है। पत्रकार के रूप में इज़्ज़त बचानी है तो रसातल जाते हुए टीवी चैनलों से बचना होगा।

Fb

कुछ प्रतिक्रियाएँ-

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएंhttps://chat.whatsapp.com/BPpU9Pzs0K4EBxhfdIOldr
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

One comment on “बड़े टीवी में मत जाओ, मोबाइल पर खबर देने वाला काम करो!”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *