‘प्रियंका रोड शो’ की खबर बेअसर करने को योगी सरकार ने फुल फ्रंट पेज एड दे मारा!

अरे भैया ये तमगा किसने दे दिया अचानक से कि उत्तरप्रदेश नंबर 1 है? क्या ये प्रियंका का भय है या सरकार पोषित अखबारों को मुंह बंद रखने का इनाम कि लखनऊ में हुये रोड शो का उचित कवरेज ना किया जाए। योगी जी हमारे राज्य में भी एक कथित टाइगर थे शिवराज जी जो आप से लाख गुना अच्छे थे पर उनको भी ऐसे ही भ्रम हो गया था कि वो नम्बर वन है। आलम ये था कि साहब सुबह सैर पर भी निकलते थे तो प्रचार प्रसार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते थे। विज्ञापन देने में तो इतने दरिया दिल थे कि जो पोर्टल, अखबार, मैगजीन सिर्फ कागजों में चल रहे, उनको भी लाखों की रेबड़ी बांट डाली। खैर, भरम तो भरम है!

-इमरान खान, युवा पत्रकार, भोपाल

डर के आगे विज्ञापन है… प्रियंका यूपी के अखबारों को विज्ञापन दिलाती रहेंगी! कल लखनऊ में प्रियंका गांधी अपने रोड शो में एक शब्द भी नहीं बोलीं। कांग्रेस के सूत्र बताते हैं कि प्रियंका अगले शो में सिर्फ एक लाइन बोलेंगी- “पत्रकार भाइयों, आपके अखबारों को मैं विज्ञापन दिलवाती रहूंगी।” अक्सर ऐसा होता है कि जब किसी राजनीतिक दल का कोई बड़ा कार्यक्रम होता है तो वो दल या उसके नेता अखबारों को विज्ञापन देते हैं। लेकिन लखनऊ में इसके विपरीत उल्टी गंगा बही। लखनऊ में रोड शो प्रियंका का था और इस अवसर पर विज्ञापन मिला योगी सरकार से। अखबार वाले भी बड़े एहसानफरामोश होते हैं, विज्ञापन योगी सरकार ने दिया और इसका श्रेय प्रियंका गांधी को दे रहे हैं। दुआ कर रहे हैं- काश रोज़ प्रियंका का रोड शो हो और इसके डर से भाजपा सरकार हमारे अखबारों को फुल पेज विज्ञापन देती रहे। एक विज्ञापन ने डर के आगे जीत बताया था लेकिन भाजपा सरकार का विज्ञापन बताता है कि डर के आगे विज्ञापन है।
इधर कुछ दिनों से भाजपा के अच्छे दिन नहीं चल रहे हैं। अच्छी बात का भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है।

मुख कैंसर है या नहीं, घर बैठे जांचें, देसी तरीके से!

मुख कैंसर है या नहीं, घर बैठे जांचें, देसी तरीके से! आजकल घर-घर में कैंसर है. तरह-तरह के कैंसर है. ऐसे में जरूरी है कैंसर से जुड़ी ज्यादा से ज्यादा जानकारियां इकट्ठी की जाएं. एलर्ट रहा जाए. कैसे बचें, कहां सस्ता इलाज कराएं. क्या खाएं. ये सब जानना जरूरी है. इसी कड़ी में यह एक जरूरी वीडियो पेश है.

Bhadas4media ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಸೋಮವಾರ, ಫೆಬ್ರವರಿ 11, 2019

कल उत्तर प्रदेश के सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग ने अखबारों के लिए फुल पेज विज्ञापन जारी किया। शर्त ये रखी कि ये विज्ञापन पेज वन पर लगाया जाये। इस विज्ञापन का रिलीज आर्डर जारी होने के बाद ही हल्ला होने लगा। ये बातें वायरल होने लगीं कि लखनऊ में प्रियंका गांधी की कवरेज को दबाने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पेज वन के लिए विज्ञापन जारी कर दिया। लोग इस विज्ञापन को प्रियंका का डर और घबराहट बताने लगे। छोटे अखबार के पब्लिशर कह रहे हैं कि प्रियंका की पहली एंट्री की खबर पेज वन से गायब करने के लिए बड़े अखबारों को पेज वन के लिए विज्ञापन दे दिया गया। तब जबकि पूरे रोड शो में प्रियंका गांधी वाड्रा एक शब्द भी नहीं बोलीं। यदि आगे उनके धुआँधार रोडशो /जनसभाये होती हैं और प्रियंका उसमें भाषण भी देती हैं तो ये मानिये कि तब योगी सरकार मझोले और छोटे अखबारों को भी पेज वन के लिए विज्ञापन मिलेगा।

-नवेद शिकोह, वरिष्ठ पत्रकार, लखनऊ

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “‘प्रियंका रोड शो’ की खबर बेअसर करने को योगी सरकार ने फुल फ्रंट पेज एड दे मारा!

  • अमिताभ बच्चन says:

    फातिहा पढ़ने वाले दोनों कथित पत्रकार एक सम्प्रदाय विशेष से हैं, ये भी संयोग है या स्थान विशेष पर मिर्ची का लगना……. खैर

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *