‘जिया इंडिया’ का अंग्रेजी संस्करण जल्द

प्रिंट मीडिया के क्षेत्र में भी ‘जिया न्यूज’ ने दस्तक दी है। पत्रकारिता के क्षेत्र में एक अभिनव पल उस समय सामने आया जब केन्द्रीय परिवहन एवं जहाज रानी मंत्री नितिन गडकरी ने ‘जिया इंडिया’ पाक्षिक पत्रिका का दिल्ली स्थित तीन मूर्ति भवन सभागार में विमोचन किया गया। इस अवसर पर पत्रकारिता, साहित्य, सामाजिक एवं राजनीतिक क्षेत्रों की तमाम बड़ी हस्तियां मौजूद थीं। नेहरू सभागार में मौजूद विभिन्न क्षेत्रों की विभूतियों के बीच कैबिनेट मंत्री नितिन गडकरी ने मीडिया के विभिन्न पहलुओं पर खुलकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मीडिया को राजनीति के अतिरिक्त दूसरे विषयों पर भी अपना ध्यान केंद्रित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मीडिया का पूरा फोकस राजनीति पर है जबकि सोशल और दूसरे सेक्टरों पर ध्यान देने की बेहद ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि राजनीति को सिर्फ 5 फीसदी ही पत्रकारिता में जगह मिलनी चाहिए और समय या स्थान के अभाव में  जो दूसरे जरूरी विषय जो छूट जाते हैं उन्हें प्रमुखता से शामिल करना चाहिए।

 

‘जिया इंडिया’ के विमोचन के अवसर पर जनसत्ता के पूर्व संपादक एवं वरिष्ट पत्रकार राहुल देव ने पत्रकारिता के विभिन्न पहलुओं पर उठते सवाल पर अपने सधे हुए जवाब में कहा कि अच्छी रिपोर्ट के साथ-साथ अच्छे पाठकों की भी ज़रूरत है। आज दोनों तरफ से प्रौढ़ होने की आवश्यकता शिद्दत के साथ महसूस की जा रही है। उन्होंने कहा कि आज महज आठ फीसदी पाठक ही न्यूज देखते हैं बाकी लोगों की दिलचस्पी इंटरटेनमेंट एवं अन्य में है। सप्ताह में आने वाली हर टीआरपी यही संकेत देती है।

इस अवसर पर ‘जिया इंडिया’ के प्रधान संपादक एस एन विनोद ने कहा कि ‘जिया इंडिया’ परिवार एक खुली किताब की तरह पूरे देश, समाज के सामने रहेगा। यदि एक शब्द, एक अक्षर भी पाठकों को निराश करे तो हमारा आग्रह है कि बेखौफ पाठक हमारी गलतियों को रेखांकित करें। और यदि हम संशोधन करने में विफल रहें तो पाठक स्वतंत्र हैं हमें दंडित करने को।

इस अवसर पर ‘जिया इंडिया’ के चेयरमैन रोहित जगदाले ने मौजूद लोगों को बधाई देने के साथ यह घोषणा भी की कि जल्द ही ‘जिया इंडिया’ का अंग्रेजी संस्करण सामने लाया जाएगा। मुंबई से पधारे संत कुमार स्वामी ने अपने आशीर्वचन में कहा कि ‘जिया इंडिया’ पत्रकारिता के क्षेत्र में एक नया मुकाम हासिल करेगा और आने वाले समय में मील का पत्थर साबित होगा।

राज्यसभा सांसद साबिर अली ने अपने संबोधन में कहा कि हम आशा करते हैं कि ‘जिया इंडिया’ पत्रकारिता के मानदंड पर खरी उतरेगी।  कार्यक्रम का संचालन करते हुए वरिष्ठ पत्रकार एवं ‘जिया इंडिया’ के कार्यकारी संपादक नाजिम नकवी ने कहा कि 2014 विचारधाराओं के विखंडन और नये संयोजन का वर्ष रहा है। ऐसे समय में चली आ रही जड़ता को तोड़कर हिंदी पत्रकारिता नयी चुनौतियों के दौर में प्रवेश कर रही है।

अंत में नागपुर से लोकार्पण समारोह में पधारे डॉ. गोविन्द वर्मा ने सभी गुनी जनों का आभार व्यक्त किया।  कार्यक्रम में साधना के चेयरमेन राकेश गुप्ता, वीर अर्जुन के संपादक अनिल नरेन्द्र, गांधी स्मृति संस्थान की निदेशक डॉ. मणिमाला गांधीवादी एवं खादी कार्यकर्ता सुरेश दत्त शर्मा, पूर्व बीजेपी सांसद संजय जोशी, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रवक्ता अनुज अत्रे, आप नेता अनिल वाजपेयी, दिल्ली प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता दीपिका शर्मा, एवं बजरंग दल के नेता संदीप आहूजा, दिल्ली के पूर्व उपमहापौर दिव्य जायसवाल आदि उपस्थित थे।

प्रेस रिलीज

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *