Categories: सुख-दुख

क्या भैंसे के रूप में यमराजजी दरवाज़े पर धरना देकर किसान के बाहर निकलने का इंतज़ार कर रहे?

Share

जानवरों ने फसलों को तबाह कर रखा है। ये सच्चाई है। ये जानवर दलहन-तिलहन का नाश तो कर ही चुके हैं, धान-गेहूँ बचाना मुश्किल हो गया है। आदमी कैसे जिएगा?

आदमी की बजाय जानवरों को मिलने वाले संरक्षण का यही परिणाम मिलना है। किसान इन आवारा जानवरों को मार कर भगाए न तो क्या करे!

पर एक किसान बुरी तरह फँस चुका है। ज़िला ग़ाज़ीपुर का ये किसान एक भैंसे को मार कर भगाने की गलती कर बैठा। बस क्या था। भैंसा उसके दरवाज़े पर बैठ गया। धरने पर। निकलो तो बताएँ… वाले अन्दाज़ में।

गाँव में चर्चा फैल गई ये सामान्य भैंसा नहीं, यमराज हैं। किसान को अब लेकर ही जाएँगे। पुलिस भी कुछ नहीं कर पा रही है। देखिए खबर-

Latest 100 भड़ास