क्या भैंसे के रूप में यमराजजी दरवाज़े पर धरना देकर किसान के बाहर निकलने का इंतज़ार कर रहे?

जानवरों ने फसलों को तबाह कर रखा है। ये सच्चाई है। ये जानवर दलहन-तिलहन का नाश तो कर ही चुके हैं, धान-गेहूँ बचाना मुश्किल हो गया है। आदमी कैसे जिएगा?

आदमी की बजाय जानवरों को मिलने वाले संरक्षण का यही परिणाम मिलना है। किसान इन आवारा जानवरों को मार कर भगाए न तो क्या करे!

पर एक किसान बुरी तरह फँस चुका है। ज़िला ग़ाज़ीपुर का ये किसान एक भैंसे को मार कर भगाने की गलती कर बैठा। बस क्या था। भैंसा उसके दरवाज़े पर बैठ गया। धरने पर। निकलो तो बताएँ… वाले अन्दाज़ में।

गाँव में चर्चा फैल गई ये सामान्य भैंसा नहीं, यमराज हैं। किसान को अब लेकर ही जाएँगे। पुलिस भी कुछ नहीं कर पा रही है। देखिए खबर-



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code