इंडिया टीवी में 18 साल काम करने वाले सीनियर वीडियो जर्नलिस्ट ने रजत शर्मा एंड कंपनी को भेजा लीगल नोटिस

प्रेस क्लब आफ इंडिया में भान प्रकाश और यशवंत.

भान प्रकाश का एक रोज फोन आया- यशवंत जी एक मुलाकात जरूरी है. प्रेस क्लब आफ इंडिया में मिलने का तय हुआ. भान प्रकाश जी ने जब अपनी कहानी बताना शुरू किया तो मेरे रोंगटे खड़े हो गए. कम से कम रजत शर्मा जैसे जमीन से उठे शख्स से तो ऐसी उम्मीद न थी कि वह अपने चैनल के स्थापना काल से पूरी निष्ठा, ईमानदारी, प्रतिभा और मेहनत से काम करने वाले सीनियर वीडियो जर्नलिस्ट के साथ ऐसी हरकत होने देंगे और चुपचाप तमाशा देखते रहेंगे.

हालांकि आजकल रजत शर्मा के पैर जमीन पर रहते नहीं. वे चार्टर्ड प्लेन में रहते-उड़ते हैं. ऐसे ही मौकों के लिए कहा गया है कि जब जमीन से पैर उठने लगे तो समझ जाओ अहंकार के दिन आ गए. और, अहंकार अपने पीछे विनाश के बीज लेकर आता है जिसके फलने-फूलने-फैलने में भले वक्त लगे, लेकिन वह फलित तो होता है. यही प्रकृति का नियम है.

भान प्रकाश जी की कहानी लंबी है. उन्होंने इंडिया टीवी चैनल को लूट रहे कुछ जोंक किस्म के लोगों की करतूत पर सवाल उठाया तो उन्हें सीधे कालापानी देते हुए गुवाहटी ट्रांसफर कर दिया गया जहां न कोई आफिस था न कोई रिपोर्टर. एक वीडियो जर्नलिस्ट अकेला वहां जाकर क्या करता लेकिन वो गए और अपने ही मन से स्टोरीज प्लान करते और उसे भेजते. इंडिया टीवी वो स्टोरी चलाता, दिखाता.

एक रोज एक बड़ी स्टोरी करते हुए मेघालय में उन्हें पुलिस और पेट्रोल माफिया के सिंडिकेट ने अरेस्ट कर फर्जी मामलों में जेल भेज दिया. इंडिया टीवी को लूट रहे जोंक किस्म के लोगों को ये बड़ा अच्छा मौका दिखा और बजाय मुश्किल वक्त में, रिपोर्टर और वीडियो जर्नलिस्ट दोनों की भूमिका निभा रहे भान प्रकाश जी की, मदद करने के, उन्हें फौरन नौकरी से निकाल कर अठारह साल का संबंध यह कहते हुए खत्म कर दिया कि इनका इंडिया टीवी से कोई संबंध नहीं है.

भान प्रकाश जी के परिजन मेघालय गए. पेट्रोल माफिया ने भी गल्ती मानी और केस वापस लिया. फिलहाल भान प्रकाश जी दिल्ली लौट आए हैं और रजत शर्मा एंड कंपनी को लीगल नोटिस भेज दिया है. आगे वे मुकदमा करेंगे और इंडिया टीवी प्रबंधन से हर हाल में जीत हासिल करेंगे क्योंकि वे कहते हैं- एक अकेला आदमी बहुत कुछ कर सकता है, बशर्ते वह ठान ले.

नीचे वो लीगल नोटिस है जिसे इंडिया टीवी प्रबंधन को भेजा गया है. भान प्रकाश जी का वीडियो इंटरव्यू भी जल्द ही भड़ास पर अपलोड किया जाएगा…

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “इंडिया टीवी में 18 साल काम करने वाले सीनियर वीडियो जर्नलिस्ट ने रजत शर्मा एंड कंपनी को भेजा लीगल नोटिस”

  • जबसे कुछ लोगों को सत्ता मिली है जिन्होंने कभी किसी चैनल मैं कभी काम नहीं. किया चैनल मैं क्या होता है उनको कोई तजुर्बा नहीं है।वो लोग शिर्फ यहां पर आपना राज समझ रहे हैं।और शिर्फ ईस काम लगे रहते उसे कैसे सिकार बनाया जाये कभी किसी को एक एक महिना काम पर नहीं जने दैंगे कभी कभी किसी की छोटीसी गलती पर एचार मैं पेश. करेंगे कभी किसी को. लिगल डिपार्टमेंट में पेसे करेंगे यहाँ तक की बात बात मैं धमकी देते हैं । और असाईनमैट हैड तो ईसी काम लगा रहता है टिआरपी कहाँ जा रही है ऐसे लोगों कारड बस उसका काम मालिक को खबर देना। और मालिक ये नहीं देख ता ईन लोगों ने ईस संसथान को कहां पहुंचा दिया । जबसे ईनको पावर दी यहां कोई आना नहीं चहता और असाईनमैट हैड और एचार जीएम यहाँ किसी को काम नहीं करने देते वो शिर्फ ये देखते रहते हैं किसको अगला सिकार बनाया जाये हमारा टैरर यहां रहना चाहिए।टीआरपी जाये तेल लेने। बस हमारा टैरर यहाँ रहे जो हमारी गुलमी करेगा वहीं यहाँ काम करेगा।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *