शार्ली ऐब्दो ने अबकी बुरका पहनी महिला के साथ कांड कर दिया!

-दीपांकर पटेल-

बदलाव की अभिव्यक्ति में अश्लीलता, और बदले की आग में किया जाने वाला कत्ल दोनों ही ख़तरनाक है.

मुस्लिम चरमपंथी फ्रांस में हत्याएं कर रहे हैं, और शार्ली ऐब्दो ने अपने नये एडिशन में बुरका पहनी महिला का नितम्भ उघाड़ दिया है.

कलम और बंदूक की हिंसा में फर्क चुनना हुआ तो सब अपने-हिस्से की चुन लेंगे..

पर ये भी सच है कि कलमें सर कलम नहीं करती.. और इसलिए वो बंदूकों जितना आतंक नहीं पैदा कर पाती, वो बंदूकों जितनी आतंकी नहीं.

क्योंकि कलम से हत्या नहीं हो सकती

इसलिए हत्यारी बंदूक के मुकाबले हिंसक कलम कहीं बेहतर चुनाव है…


-प्रदीप तिवारी-

शार्ली एब्दो का नया कार्टून…

16 अक्टूबर को पेरिस में शार्ली एब्दो में छपे पैगंबर मोहम्मद के एक कार्टून को छात्रों को दिखाने पर एक टीचर का सिर धड़ से कलम कर दिया गया था।

2015 में पैगंबर मोहम्मद के कार्टून छापने पर इस मैगजीन पर आतंकी हमला भी हुआ था, जिसमे 12 लोग मौत के घाट उतार दिए गए थे।

शार्ली एब्दो अलग-अलग धर्मों के नेताओं का कार्टून बनाने को अभिव्यक्ति की आजादी मानता है और अक्सर यह काम करता है।

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *