गृह विभाग के लेटर में ‘लेव जिहाद’ शब्द लिखे जाने पर मायनोरिटी कमेटी को आपत्ति, देखें पत्र

गुजरात के गृह विभाग ने एक सरकुलर के जरिए पुलिस महानिदेशक व अन्य अधिकारियों से ‘लव जिहाद से जुड़े अपराध’ के बारे में तत्काल सूचना देने को कहा गया है. मायनोरिटी कोर्डीनेशन कमेटी गुजरात ने एक पत्र लिखकर सरकुलर में पवित्र शब्द ‘जेहाद’ के दुरुपयोग के रोकने की मांग करते हुए परिपत्र को संशोधित कर जारी करने का अनुरोध किया है.

देखें पत्र-

सेवा में,
श्री निखिल भट्ट जी
अधिक सचिव (का.व्या.)
गृह विभाग,

गांधीनगर, गुजरात

विषय- आपके पत्र में पवित्र जिहाद शब्द के दुरुपयोग के संबंध में,

महोदय,

आपका ध्यान आपके कार्यालय द्वारा जारी परिपत्र संख्या- SB-1/KAV/102021/1468 दिनांक- 17-9-21 की ओर दिलाना चाहता हूँ, इस पत्र में आपके द्वारा राज्य के पुलिस महानिदेशक महोदय व राज्य के व्यवस्था से जुड़े सभी अधिकारियों से राज्य में कुछ विशेष अपराधों के विषय में तत्काल रिपोर्ट भेजने के आदेश हैं, इन अपराधों की सूची में “लव जिहाद से जुड़े अपराध” के बारे में मीडिया में आने पूर्व सूचना देने को कहा गया है|

महोदय गुजरात राज्य के किसी क़ानून में लव जिहाद नामक शब्द, अपराध अंकित नहीं है। इस शब्द का प्रयोग सत्ताधारी राजनीतिक दल के नेताओं द्वारा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए किया जाता रहा है। इस्लाम में “जिहाद” शब्द बहुत ही पवित्र शब्द है और इसका अर्थ है “संघर्ष”।

आप किसी उर्दू, अरबी के जानकार से जिहाद शब्द का अर्थ पूछते तो आप इसका महत्व जान पाते। इस्लाम में संघर्ष किसी भी गलत काम के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है।

आपके द्वारा जिहाद जैसे पवित्र शब्द का गलत इस्तेमाल राजनीतिक साजिश का भाग प्रतीत होता है। इस तरह के झूठ को बार बार कहकर दो धर्मों के बीच शांति और विश्वास को तोड़ने की साजिश प्रतीत होता है।

महोदय, भारत के संविधान के अनुच्छेद 51 ए (एफ) में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि देश के प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह “धार्मिक, भाषाई, क्षेत्रीय या सांप्रदायिक मतभेदों की परवाह किए बिना भारत के सभी लोगों के बीच सद्भाव और भाईचारे का निर्माण करें।”

आप जैसा वरिष्ठ अधिकारी भी संविधान की मूल भावना का उल्लंघन करे तो कृत्य अत्यंत गंभीर बन जाता है।

महोदय, इस पत्र में जिहाद शब्द के दुरूपयोग से हमारी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

इसलिए हम आपसे जिहाद शब्द का दुरुपयोग रोकने का अनुरोध करते हैं व इस पत्र को पुनः संशोधित कर जारी करने का भी अनुरोध करते हैं|

मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप उपरोक्त सर्क्युलर को संशोधित कर जारी करेंगे व कृत कार्यवाही से मुझे भी अवगत कराएंगे|

भवदीय,

मुजाहिद नफ़ीस
कनवीनर
माइनॉरिटी कोर्डिनेशन कमेटी, गुजरात
Email- mccgujarat@gmail.com

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करें. वेबसाइट / एप्प लिंक सहित आल पेज विज्ञापन अब मात्र दस हजार रुपये में, पूरे महीने भर के लिए. संपर्क करें- Whatsapp 7678515849 >>>जैसे ये विज्ञापन देखें, नए लांच हुए अंग्रेजी अखबार Sprouts का... (Ad Size 456x78)

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें- Bhadas WhatsApp News Alert Service

 

One comment on “गृह विभाग के लेटर में ‘लेव जिहाद’ शब्द लिखे जाने पर मायनोरिटी कमेटी को आपत्ति, देखें पत्र”

  • मुजाहिद नफ़ीस
    कनवीनर
    माइनॉरिटी कोर्डिनेशन कमेटी, गुजरात
    Dear sir when your innocent child start loving with Hindus girls after change their originality of religion with name that time where run away and after doing this hated work they rape and murder her no committee wake up and you. when govt written world love jihad you feeling very insult .this is India where you are living safe and sound did think the situation of Hindus in Pakistan how they are living .

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *