एबीपी न्यूज-सीवोटर फाइनल ओपिनियन पोल में गुजरात में बीजेपी की भारी जीत की भविष्यवाणी की गई

Share


नई दिल्ली : एबीपी न्यूज-CVoter (सेंटर फॉर वोटिंग ओपिनियन एंड ट्रेंड्स इन इलेक्शन रिसर्च) के आखिरी ओपिनियन पोल के परिणाम में गुजरात में बीजेपी को 134 – 142 सीटों के साथ मौजूदा बीजेपी सरकार के लिए एक आसान जीत की भविष्यवाणी।

एबीपी न्यूज- गुजरात चुनावों पर सीवोटर के अंतिम ओपिनियन पोल के परिणाम अनुसार 28-36 सीटों के साथ कांग्रेस (INC) दूसरे स्थान पर रहेगी हैं और आप (आम आदमी पार्टी) को केवल 7-15 सीटों में ही जीत दर्ज होने की संभावना है।
ओपिनियन पोल के अनुसार बीजेपी को 45.9% वोट शेयर मिलने की संभावना है, कांग्रेस को 26.9% और AAP को 21.1% वोट मिलेंगे।

एबीपी न्यूज-सीवोटर ने गुजरात में एक स्नेप पोल भी किया और सर्वे में शामिल लोगों से एक सवाल किया गया कि वे गुजरात के अगले मुख्यमंत्री के लिए सबसे पसंदीदा उम्मीदवार किसे मानते हैं? प्रश्न के उत्तर में, 52.1% मतदाताओं ने कहा कि वे भाजपा नेताओं के समर्थन में हैं, वहीँ 23.6% ने आप नेताओं के पक्ष में समर्थन दिया, 19% ने INC नेताओं के पक्ष में समर्थन दिया, और 5.3% लोगों ने अन्य नेताओं के समर्थन को समर्थन दिया।

सर्वे में शामिल लोगों से एक अन्य प्रश्न पूछा गया कि उनके अनुसार इस समय सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा क्या है। जिसके उत्तर में 37.5% सर्वे में शामिल लोगों ने कहा की बेरोजगारी को सबसे बड़ी चुनौती के रूप में मानते हैं, 18.2% लोगों ने बिजली/पानी/सड़क को बड़ा मुद्दा बताया, 4.2% लोगों ने महामारी के दौरान के काम काज को सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा माना, 13% उत्तरदाताओं ने किसानों के मुद्दे को, 2.6% लोगों ने कानून और व्यवस्था, 4.5% लोगों ने कहा कि सरकारी कार्यों में भ्रष्टाचार को प्रमुख मुद्दा, 2.3% लोगों ने राष्ट्रीय मुद्दों को, 4.3% लोगों ने मुद्रास्फीति, जबकि 13.4% लोगों ने अन्य मुद्दों को सबसे बड़ी चुनौती माना।

यह पोल सितंबर से नवंबर 2022 के चौथे सप्ताह के बीच किए गए सर्वेक्षणों पर आधारित है और CVOTER ने यह सुनिश्चित किया है कि डेटा को सांख्यिकीय रूप से संतुलित करके विश्लेषण को सही ढंग से प्रस्तुत किया जाए ताकि यह नवीनतम जनगणना परिणामों के अनुसार स्थानीय आबादी को प्रतिबिंबित कर सके। यह सर्वेक्षण CATI के उन उत्तरदाताओं के साक्षात्कार पर आधारित है जो वयस्क (18+) हैं और सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

Latest 100 भड़ास