खनन माफिया समर्थक पत्रकार संजीव जैन के चक्कर में अवनींद्र कमल का भी हुआ रायपुर तबादला

दैनिक जागरण सहारनपुर के ब्यूरो चीफ संजीव जैन पर खनन माफिया से मिलीभगत के आरोप में कार्रवाई हुई तो इसकी चपेट में सहारनपुर के पूर्व ब्यूरो चीफ और इन दिनों दैनिक जागरण मेरठ में डेस्क पर कार्यरत अवनींद्र कमल भी आ गए. संजीव जैन ने जागरण प्रबंधन को बताया कि उनका स्टिंग अवनींद्र कमल के इशारे पर हुआ ताकि वो हटाए जाएं तो उनकी कुर्सी पर फिर अवनींद्र कमल काबिज हो सकें. इसको लेकर काल डिटेल समेत कई सबूत संजीव जैन ने जागरण प्रबंधन को सौंपा.

प्रबंधन ने संजीव जैन का रायपुर तो तबादला किया ही, सहारनपुर ब्यूरो चीफ की कुर्सी पर काबिज होने का सपना देख रहे अवनींद्र कमल को भी रायपुर लाद दिया. इस तरह संजीव जैन और अवनींद्र कमल दोनों का तबादला रायपुर में नई दुनिया में कर दिया गया है और इन लोगों को वहां एक अगस्त को रिपोर्ट करना है. संजीव जैन खनन माफिया की पैरवी में हटा है और अवनींद्र पर आरोप है कि उसने संजीव का स्टिंग कराया, ताकि वह पुन: सहारनपुर प्रभारी बन सके. संजीव ने कॉल डिटेल्स निकलवा कर मालिक तरुण गुप्ता को दी, इसलिए उसकी नौकरी बच गई. वर्ना स्टेट एडिटर आशुतोष शुक्ला ने संजीव का लखनऊ बुलाकर इस्तीफा ले लिया था. हालांकि कहने वाले कहते हैं कि संजीव जैन का स्टिंग सुदर्शन न्यूज चैनल वालों ने किया लेकिन खामखा इसका ठीकरा अवनींद्र कमल के सिर मढ़ दिया गया.

मूल खबर…



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code