उत्तराखंड के 60 वर्ष से अधिक उम्र के पत्रकारों को मिलेगा हर माह 5 हजार रुपये पेंशन

जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ उत्तराखंड के राजेन्द्र जोशी अध्यक्ष, गिरीश पंत महामंत्री व एसपी कुकरेती कोषाध्यक्ष चुने गए, मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ उत्तराखंड के द्विवार्षिक अधिवेशन का उद्घाटन, सीएम रावत व मंत्री यशपाल आर्य ने दीप प्रज्वलित कर किया अधिवेशन का उद्घाटन

देहरादून । जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ उत्तराखंड का द्विवार्षिक अधिवेशन नगर निगम कार्यालय सभागार में आयोजित किया गया। इस अधिवेशन में यूनियन की नई प्रदेश कार्यकारिणी के अध्यक्ष, महामंत्री और कोषाध्यक्ष का सर्वसम्मति से चुनाव किया गया। राजेंद्र जोशी को यूनियन का प्रदेश अध्यक्ष, गिरीश पंत को महामंत्री और एसपी कुकरेती को कोषाध्यक्ष सर्वसम्मति से चुना गया। अधिवेशन का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री हरीश रावत ने दीप प्रज्वलित कर किया। उन्होंने यूनियन के पदाधिकारियों को अपनी शुभकामनाएं दीं।

इस मौके पर सिंचाई मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि स्वाधीनता आंदोलन में पत्रकारों, साहित्यकारों का बड़ा योगदान रहा है। कलम की बड़ी ताकत होती है। उन्होंने कहा कि आत्मबल है तो हर चुनौती का सामना किया जा सकता है। आत्मबल बड़ी ताकत होती है। उन्होंने कहा कि पत्रकार को सच लिखना चाहिए। कई बार किसी व्यक्ति के बारे में ऐसा समाचार प्रकाशित हो जाता है जिससे कि संबंधित व्यक्ति का कोई वास्ता ही नहीं होता है, इससे बड़ी पीड़ा पहुंचती है। पत्रकार को सच जानकर ही समाचार छापना चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकारों पर बड़ी जिम्मेदारी है। राजनीति का स्वरूप बदmypicsल रहा है। राज्य का विकास हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए, इस दिशा में सभी को आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि राज्य कैबिनेट ने 60 वर्ष से अधिक उम्र के पत्रकारों के लिए 5 हजार रुपये मासिक पेंशन देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि संगठन की मांगों पर सरकार सकारात्मक कार्यवाही करेगी। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री पत्रकारों की समस्याओं को लेकर गंभीर हैं। पत्रकारों की समस्याओं के निराकरण की दिशा में कार्य किया जा रहा है। यूनियन द्वारा पत्रकारों की विभिन्न समस्याओं को लेकर सीएम को एक ज्ञापन सौंपा गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते  हुए नव निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष राजेन्द्र जोशी ने कहा कि यह जिम्मेदारी का कार्य मुझे देकर संगठन ने  मेरा मान   बढाया है। उन्होंने  कहा  मेरा पूरा प्रयास होगा संगठन को  उत्तराखंड के समूचे सीमांत जनपदों तक पहुँचाने के साथ  ही संगठन पत्रकारों की समस्या व उसने समाधान के लिए सरकार से लगातार संपर्क व समन्वय  बनाते  हुए आगे  बढ़ेगा। उन्होंने राज्य के तमाम  जिलों से आये प्रतिनिधियों का आभार  व्यक्त करते हुए कहा कि आप लोगों से  मुझे  निर्विरोध निर्वाचित कर और  भी मेरे ऊपर जिम्मेदारियों का भरोसा दिखाया  है जिसके लिए मै आप लोगों की उम्मीद पर  खरा उतरने का प्रयास  करूँगा।

यूनियन के प्रदेश महामंत्री गिरीश पंत ने कहा कि राज्य गठन के बाद विज्ञापन एवं प्रेस मान्यता समितियों का गठन नहीं हुआ है, इन समितियों का गठन न होने से सरकारी स्तर पर मान्यताएं दी जा रही हैं, जो लोकतांत्रिक भावना व परंपराओं के खिलाफ है। इन समितियों का शीघ्र गठन किया जाए। पत्रकारों के लिए राजधानी और अन्य सभी जिलों में पत्रकार कालोनियां बनाकर आवास उपलब्ध कराए जाएं। सरकार द्वारा पत्रकारों और उनके परिवार के इलाज के लिए जो मेडिकल सुविधा पत्रकारों को प्रदान की जा रही हैं, उससे 75 प्रतिशत श्रमजीवी पत्रकार अभी भी वंचित हैं। क्षेत्रीय भाषा के अखबारों को प्रोत्साहन देने के लिए उनकी विज्ञापन दरों को अधिक किया जाए।

उन्होंने कहा कि सूचना और लोकसंपर्क विभाग में विभागीय स्तर पर पूर्णकालिक निदेशक का पद सृजित किया जाए। अधिवेशन में यूनियन की नई प्रदेश कार्यकारिणी के अध्यक्ष, महामंत्री और कोषाध्यक्ष का सर्वसम्मति से चुनाव किया गया। राजेंद्र जोशी को यूनियन का प्रदेश अध्यक्ष, गिरीश पंत को महामंत्री और एसपी कुकरेती को कोषाध्यक्ष सर्वसम्मति से चुना गया। शेष कार्यकारिणी इन लोगों द्वारा घोषित की जाएगी। इस मौके पर वरिष्ठ पत्रकार भागीरथ शर्मा, प्रकाश पंत, शंकर दत्त घिल्ड़ियाल, गिरीश गैरोला, उमाशंकर प्रवीन मेहता, वेद जुगरान, आलोक कुमार, वीरेंद्र दत्त गैरोला, नीरज त्यागी, चेतन खडगा, ठाकुर सुक्खन सिंह, नारायण दत्त भट्ट, स्वदेश ईस्टवाल, मनोज ईस्टवाल, कैलाश जोशी, विवेक सजवाण, आजाद अली आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन वीरेंद्र डंगवाल पार्थ और स्वदेश ईस्टवाल ने किया।

अधिवेशन से संबंधित तस्वीरें देखने के लिए नीचे क्लिक करें:

Pics of union election

संबंधित खबर….

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “उत्तराखंड के 60 वर्ष से अधिक उम्र के पत्रकारों को मिलेगा हर माह 5 हजार रुपये पेंशन

  • Kashinath Matale says:

    Thanks to the Hon’ble Chief Minister of Uttarakhand and
    Congratulation to the office bearers of Journalist Union of Uttarakhand and also conogratulation to all the employees for announcement of the pension after the age of 60 years as Rs. 5000/-
    I request to the Hon’ble Chief Minister of Maharashtra, too announce more and better pension scheme for all Newspaper employees for betterment after the retirement of the employees.
    Thanks !!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *