नभाटा में नया फरमान- डेस्क नहीं करेगा किसी रिपोर्टर की कॉपी एडिट

मुंबई नवभारत टाइम्स ने हाल ही में रिपोर्टर्स और स्ट्रिंगर्स के खिलाफ एक नया फरमान जारी किया हैं. फरमान के मुताबिक नवभारत टाइम्स के रिपोर्टर्स और स्ट्रिंगर्स को अपनी न्यूज़ कॉपी २०० परसेंट अच्छी बनाकर देनी पड़ेगी, ताकि डेस्क को कोई भी काम न करना पड़े. एनबीटी एडिटर सुंदरचंद्र ठाकुर और एसोसिएट एडिटर सतीश मिश्रा द्वारा जारी किये गए इस फरमान के बाद फ़िलहाल एनबीटी मुंबई के ऑफिस में खलबली मच गयी है.

एनबीटी स्टाफ और रिपोर्टर्स में सुगबुगाहट है कि क्या रिपोर्ट्स को अपनी न्यूज़ देने के साथ-साथ अपनी न्यूज़ कॉपी को एडिट भी करना पड़ेगा, तो एनबीटी डेस्क क्या काम करेगा? आखिर मीडिया में डेस्क का क्या काम है? हालांकि एडिटर और असोसिएट एडिटर द्वारा जारी किये गए इस फरमान एनबीटी डेस्क में ख़ुशी का माहौल है. एनबीटी से जुड़े लोगों के मुताबिक एनबीटी में कॉपी एडिटर के पोस्ट पर काम कर रहीं आकांशा प्रभु नामक महिला पत्रकार ने कह दिया है कि मेरे पास कोई भी न्यूज़ कॉपी फाइनल आनी चाहिए, हैडिंग से लेकर कंटेंट में एक भी गलती नहीं होनी चाहिए.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “नभाटा में नया फरमान- डेस्क नहीं करेगा किसी रिपोर्टर की कॉपी एडिट

  • रंजन says:

    आकांशा मैडम वाकई आप बहुत कम कर रही है …… क्या बात है …. मै आपको एक मुप्त में राय देना चाहता हूँ आप समाचार पत्र को छपने के बाद ही पढिये…

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code