क्या पत्रिका ने खबर छुपाने के लिए गायब कर दिए दो पृष्ठ?

विश्वसनीयता और निष्पक्ष पत्रकारिता का दावा करने वाली राजस्थान पत्रिका ने एक खबर को छुपाने के लिए अखबार के दो पृष्ठ गायब कर दिए। इसे लेकर पूरे अजमेर शहर में दिनभर चर्चा रही। लोगों द्वारा पूछे जाने पर संस्थान के कर्मचारियों से संतोषजनक जवाब भी नहीं मिला।

दरअसल 30 अप्रेल, 2019 को राजस्थान पत्रिका के अजमेर संस्करण से प्रकाशित अखबार जब लोगों के बीच आया तो उसका पृष्ठ संख्या 11 व 12 गायब था। जागरूक पाठकों ने दूसरों से पता किया तो उनके अखबार में भी यह दोनों पृष्ठ गायब थे।

हैरत तो तब ज्यादा हुई जब पत्रिका के ई-पेपर पर भी यह दोनों पृष्ठ अपलोड नहीं थे। इस कारगुजारी से पत्रिका की साख पर सवाल खड़े हो गए हैं। शहर में लोग तरह तरह की बातें बना रहे हैं। वहीं प्रतिद्वंद्वी अखबार को भी चटकारे लेने का मौका मिल गया है।

PayTM से जुड़ेंगे तो सड़क पर आ जाएंगे

PayTM से जुड़ेंगे तो सड़क पर आ जाएंगे… PayTM अपने वेंडर्स को ला देता है सड़क पर… पवन गुप्ता आज मारे मारे फिर रहे हैं…. इंटीरियर डेकोरेशन का काम कराने वाले पवन गुप्ता अपने सिर पर बढ़ते कर्ज और देनदारों के बढ़ते दबाव के चलते घर छोड़ कर भागे हुए हैं… उन्होंने भड़ास4मीडिया के एडिटर यशवंत को अपनी जो आपबीती सुनाई, उसे आप भी सुनिए.

Bhadas4media ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಶುಕ್ರವಾರ, ಏಪ್ರಿಲ್ 26, 2019
कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “क्या पत्रिका ने खबर छुपाने के लिए गायब कर दिए दो पृष्ठ?”

  • Pram mishra says:

    पत्रिका में तो बहुत कुछ हो रहा है. कर्मचारी हितों का सत्यानाश कर दिया गया है. कुछ संपादक कुछ यूनिट हेड संस्थान को चला रहे हैं. मध्य प्रदेश में इसका दिवाला बहुत जल्द निकलेगा. भोपाल जबलपुर ग्वालियर का कबाड़ा हो भी चुका है. जबलपुर पत्रिका की हालत तो दयनीय हो गई है.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *