राजस्थान पत्रिका के कई संस्करणों में बड़े पैमाने पर फेरबदल

राजस्थान पत्रिका समूह ने जयपुर शहर में अपनी पकड़ मजबूत बनाने की रणनीति बनाई है। इसके लिए डेली न्यूज और न्यूज टूडे के साथ राजस्थान पत्रिका से भी चुनिंदा रिपोर्टर को हायपर लोकल प्रोजेक्ट के तहत अहम जिम्मेदारी के लिए चुना गया है। डेली न्यूज अखबार के स्टार रिपोर्टर परमेश्वर शर्मा का तबादला राजस्थान पत्रिका में किया गया है। परमेश्वर को जयपुर शहर की चारदीवारी परकोटा से निकलने वाले पत्रिका परकोटा का प्रभारी बनाए जाने की सूचना है।

राजस्थान पत्रिका के जयपुर सप्लीमेंट पत्रिका प्लस में सैकंड इंचार्ज के पद पर कार्यरत अविनाश बाकोलिया को मालवीय नगर का प्रभारी बनाए जाने की सूचना है। इनके अलावा चन्द्रवीर सिंह को राजापार्क, अमित सिंह को प्रताप नगर, अविनाश भदौरिया को वैशाली नगर और लक्ष्मी शंकर को मानसरोवर का प्रभारी बनाने की जानकारी है।

पत्रिका प्रबंधन से जुड़े जानकारों की मानें तो पत्रिका समूह के मालिक निहार कोठारी ने फेरबदल में बड़ी दिलचस्पी ली है। वरिष्ठ पत्रकार राजेश कसेरा को हायपर लोकल प्रोजेक्ट का मुखिया बनाया है। इससे पूर्व भी पत्रिका की ओर से जयपुर में सिटी पल्स सप्लीमेंट निकालकर आमजन से जुड़ाव किया था, जिसे बाद में निहार कोठारी के ही आग्रह पर बंद कर दिया गया, लेकिन इस बार बड़े पैमाने पर फेरबदल कर इसी प्रोजेक्ट को नए कलेवर में पाठकों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी युवा और तेजतर्रार पत्रकारों को सौंपी गई है।

राजस्थान पत्रिका से आ रही खबरों के अनुसार संस्थान में तमाम फेरबदल हुए है. मिली जानकारी के मुताबिक भोपाल में जिनेश जैन जो वहां रेजिडेंट एडिटर थे, अब उनकी जगह उरूक राम शर्मा ने ली है. जिनेश जैन को छत्तीसगढ का संपादक बनाया गया है. पहले छत्तीसगढ के संपादक की भूमिका गिरिराज शर्मा निभा रहे थे. गिरिराज शर्मा ने ग्रुप से इस्तीफा दे दिया है. वहीं इंदौर में पंकज श्रीवास्तव की जगह विजय चौधरी को रेजिडेंट एडिटर बनाया गया है. ग्वालियर में सिद्धार्थ भट्ट की जगह अमित मंडलोई को रेजेडिंट एडिटर की जिम्मेदारी दी गई है.

इसे भी पढ़ सकते हैं…

पत्रिका में कई ईधर से उधर, गिर्राज, सिद्धार्थ, हरीश और आशुतोष के बारे में सूचनाएं

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें-

https://chat.whatsapp.com/Bo65FK29FH48mCiiVHbYWi

Comments on “राजस्थान पत्रिका के कई संस्करणों में बड़े पैमाने पर फेरबदल

  • indore news todey ka editorial incharg shailendra tiwari gwalior ka sampadak banne ke kwab dekh raha tha. lekin sandeep choure ne kamyab nahi hone diya. ab jaldi hi bhrast Tiwari aur bhrast mohit panchal ke sang-sang arun chouhan ki bhi chutty hoe wali hai.
    -Anoop.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *