पीएमओ को चिट्ठी लिखने वाला आजतक डिजिटल का मीडियाकर्मी हुआ बर्खास्त

रामकृष्ण

आजतक न्यूज चैनल के डिजिटल विंग में कार्यरत सीनियर सब एडिटर रामकृष्ण को संस्थान से बर्खास्त कर दिया गया है. ज्ञात हो कि बर्खास्तगी के बाद रामकृष्ण ने एक लंबी चौड़ी चिट्ठी लिखकर संस्थान के अपने वरिष्ठों पर कई किस्म के आरोप लगाए थे. उन्होंने ये लेटर अरुण पुरी, कली पुरी समेत पीएमओ को भी भेजा था.

बताया जाता है कि पीएमओ की तरफ से जांच के लिए नोएडा पुलिस को निर्देशित किया गया था. पीएमओ की जांच का नतीजा क्या आया, ये तो नहीं पता लेकिन ये जरूर पता चला है कि रामकृष्ण की आजतक से छुट्ठी हो चुकी है. छुट्टी होने के बाद उन्होंने लंबा चौड़ा पत्र लिखकर सबको मेल किया है.

बताया जा रहा है कि रामकृष्ण ने पहले भी कई आरोप लगाए थे, उसकी संस्थान ने जांच कराई. सभी आरोपों को निराधार पाया गया. आरोपों में कोई सच्चाई न मिलने पर रामकृष्ण को अनुशासनहीनता और कामकाज में लापरवाही के चलते संस्थान द्वारा 10 अगस्त, 2020 को बर्खास्त कर दिया गया. इसके बाद रामकृष्ण ने पीएमओ सहित कई जगहों पर पत्र लिखकर मेल किया.

रामकृष्ण ने क्या कुछ लिखा था, पढ़ने के लिए नीचे दिए शीर्षक पर क्लिक करें-

इंडिया टुडे में कार्यरत पत्रकार ने आंतरिक राजनीति को लेकर पीएमओ को भी लिख दी चिट्ठी! जांच शुरू

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *