कमान्डेंट जी, कुक पद पर नियुक्त कर दें- राम नरेश यादव

मध्य प्रदेश में शायद राज्यपाल के स्तर से सीधे नियुक्ति कराने की परंपरा सी थी. व्यापम घोटाले में फंसे मध्य प्रदेश के राज्यपाल राम नरेश यादव द्वारा यूपी के आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को लिखे एक पत्र से ऐसा ही दिखता है.

यादव के 24 अक्टूबर 2013 के इस पत्र द्वारा ठाकुर को कमान्डेंट, 20वीं वाहिनी, पीएसी, आजमगढ़ के रूप में कहा गया था कि आजमगढ़ के ग्राम पड़ई के पंकज गिरी ने वाहिनी में कुक पद के लिए आवेदन किया, जिनके पास जीविकोपार्जन का कोई अन्य साधन नहीं है. अतः गिरी के पत्र पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए इस पद पर नियुक्त कर दिया जाए.

समाचार अंग्रेजी में पढ़ें – 

Mr Commandant, appoint as Cook- Ram Naresh Yadav

Direct appointments on the Governor’s orders were possibly quite regular in Madhya Pradesh. A letter from MP Governor Ram Naresh Yadav, being named in Vyapam scam, to UP IPS officer Amitabh Thakur seems to indicate the same.

In his letter dated 24 October 2013, Sri Yadav had told Sri Thakur, the Commandant, 20th Battallion PAC Azamgarh that Pankaj Giri of village Padai, Azamgarh had applied for the post of Cook in the PAC. Hence he shall be appointed to this post, considering the fact that he has no other means of livelihood.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code