कोर्ट ने सलोनी अरोड़ा को पांच के दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा

इंदौर के पुलिस थाने में कुर्सी पर बैठी सलोनी अरोड़ा.

इंदौर से खबर है कि दैनिक भास्कर अखबार के ग्रुप एडिटर कल्पेश याग्निक को ब्लैकमेल करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने के मामले में गिरफ्तार महिला पत्रकार सलोनी अरोड़ा को आज अदालत में पेश किया गया. कोर्ट ने सलोनी को पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है.

अदालत में सलोनी ने न्यायाधीश से खुद के लिए वकील कराने का अनुरोध किया. तब जज ने पूछा कि क्या उसके घर से कोई नहीं आया है? इस पर सलोनी का कहना था कि उसके रिश्ते घरवालों से टूट चुके हैं. अदालत में बैठे कई पत्रकारों ने इस पर कमेंट किया कि क्या तुम्हारे चाहने वाले यार लोगों में से कोई यहां नहीं आया? इस पर वहां बैठे लोग हंस पड़े.

रविवार होने के बावजूद आज अदालत में काफी लोग आए. अखबारों के प्रतिनिधि भी मौजूद थे. पुलिस ने पूरे मामले की जांच के लिए सलोनी को रिमांड पर देने की अपील की. अदालत ने पांच दिन के लिए सलोनी अरोड़ा को पुलिस रिमांड पर दिए जाने की मंजूरी दी. अदालत ले जाने के पहले सलोनी को पुलिस थाने में रखा गया था. उसे बाकायदे कुर्सी पर बिठाकर

इस बीच, इंदौर पुलिस ने सलोनी अरोड़ा की गिरफ्तारी को लेकर दो पेज का एक प्रेस रिलीज जारी किया है जो इस प्रकार है…

इन्हें भी पढ़ें…

सलोनी अरोड़ा हत्थे चढ़ी, बेटे से मिलने की ममता में हुई गिरफ्तार

xxx

कल्पेश सुसाइड प्रकरण : पत्रकार सलोनी अरोड़ा कैसे ब्लैकमेल करते हुए धमकाती थी, सुनिए ये टेप

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *