उत्तराखंड सरकार ने फिर खोला उमेश के खिलाफ मोर्चा, अबकी अमृतेश भी आरोपी, पढ़ें FIR

पिछली बार जब उमेश कुमार को रांची जेल ले जाया गया तो उसके पीछे अमृतेश चौहान की एफआईआर थी. तब अमृतेश चौहान पीड़ित थे और उमेश कुमार आरोपी. अबकी उमेश कुमार के साथ साथ अमृतेश चौहान भी आरोपी बना दिए गए हैं. उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार अब उमेश और अमृतेश दोनों के पीछे पड़ चुकी है.

ताजा एफआईआर डाक्टर हरेंद्र सिंह रावत की तरफ से है जिसमें उमेश कुमार, अमृतेश चौहान, पहाड़ टीवी, क्राइम स्टोरी, पर्वतजन आदि को आरोपी बनाया गया है. इस एफआईआर के बाद गिरफ्तारियां शुरू हो चुकी हैं. क्राइम स्टोरी के संपादक राजेश शर्मा को उनके घर से अरेस्ट कर लिया गया है. पर्वतजन के संपादक शिव प्रसाद सेमवाल कई दिनों से गायब बताए जा रहे हैं.

तो कह सकते हैं कि उत्तराखंड में सरकार के खिलाफ लिखने-बोलने वाले पत्रकारों का नए सिरे से उत्पीड़न शुरू हो गया है.

पढ़ें इस प्रकरण में दर्ज एफआईआर…

इस प्रकरण पर उमेश कुमार ने एक वीडियो अपने एफबी वॉल पर पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने अपना पक्ष रखा है. देखें Video

अगर जनहित के मुद्दों की लड़ाई लड़ने पर राजद्रोह लगता है , सरकार एक नहीं दस बार क़बूल है … अगर जेल भी जाना पड़ा तो पीछे नहीं हटेंगे

Posted by Umesh Kumar on Saturday, August 1, 2020

मित्रों समर्थन चाहिए आज आपका … शेयर करें…जनता की आवाज़ उठाना राजद्रोह है तो ये गुनाह मुझे पसंद है … बार-बार करूँगा आपकी SIT ने जाँच कर ली , आप दूध के धुले भी पाए गए .. हजूर CBI जाँच दे दीजिए कृपया ….आप तो पाक-साफ़ साबित हो ही गए फिर डर किस बात का…आप पर और आपकी पुलिस पर मुझे रत्ती भर भी भरोसा नहीं है …#राजद्रोह #कलंक

Posted by Umesh Kumar on Sunday, August 2, 2020

पूरे प्रकरण को समझने के लिए इसे भी पढ़ें-

रात में घर में घुस अरेस्ट करने के बाद उत्तराखंड पुलिस ने पत्रकार की जमकर पिटाई की, देखें वीडियो

उत्तराखंड में वरिष्ठ पत्रकार उमेश कुमार पर एफआईआर, पत्रकार राजेश शर्मा गिरफ्तार



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code