चर्चित RLD नेता जियाउर्रहमान ने थामा कांग्रेस का हाथ

चौ चरण सिंह यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष जियाउर्रहमान RLD छोड़ कांग्रेस में शामिल, अजय लल्लू ने दिलाई सदस्यता

अलीगढ़। राष्ट्रीय लोकदल के चर्चित नेता और चौ चरण सिंह यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष जियाउर्रहमान एडवोकेट ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए सोमवार को कांग्रेस का ‘हाथ’ थाम लिया। यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय लल्लू ने जियाउर्रहमान को कांग्रेस में शामिल कराया है। जियाउर्रहमान के साथ छात्र राजनीति के दिग्गज नेता और सामाजिक कार्यकर्ता रंजन राना भी कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। जियाउर्रहमान के जाने से राष्ट्रीय लोकदल को बड़ा झटका लगा है।
सोमवार को यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू और पश्चिमी यूपी के प्रभारी, राष्ट्रीय सचिव रोहित चौधरी के समक्ष चौ चरण सिंह यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष अपनी टीम के साथ कांग्रेस में शामिल हो गए।

प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू ने जियाउर्रहमान और उनके साथियों का बुके देकर एवं कांग्रेस का पटका पहनकर स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू ने कांग्रेस को मजबूत करने और छात्रों व युवाओं को अधिक से अधिक पार्टी से जोड़ने का आव्हान किया।

कांग्रेस में शामिल हुए जियाउर्रहमान एडवोकेट ने कहा कि देश के किसानों, नौजवानों, छात्रों, मजदूरों और महिलाओं के सम्मान को बचाने के लिए, उनके अस्तित्व को संवारने के लिए कांग्रेस को मजबूत करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि भाजपा और मोदी सरकार की तानाशाही और गुंडई के खिलाफ सिर्फ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी आवाज उठा रहे हैं, संघर्ष कर रहे, अन्य क्षेत्रीय दल भाजपा का एजेंट बनकर काम कर रहे हैं। जियाउर्रहमान ने कहा कि देश की एकता, अखंडता और भाईचारे को बचाने के लिए कांग्रेस ही एकमात्र विकल्प है। उन्होंने कहा कि छात्रों, युवाओं और आमजन को कांग्रेस से जोड़ेंगे और जनहित के मुद्दों पर संघर्ष करेंगे। जियाउर्रहमान ने आव्हान करते हुए कहा है कि भाजपा को खत्म करने के लिए लोगों से सपा-बसपा और अन्य दलों के मोहजाल से बाहर निकलकर कांग्रेस से जुड़ने की अपील की है।

वरिष्ठ छात्र नेता और सामाजिक कार्यकर्ता रंजन राणा ने कहा है कि आरएसएस और भाजपा से देश को मुक्ति सिर्फ कांग्रेस दिला सकती है इसलिए कांग्रेस से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि छात्र, नौजवान और किसान मोदी सरकार की नीतियों से त्रस्त है। उन्होंने कहा कि आने वाला समय कांग्रेस का है।

जियाउर्रहमान के साथ रंजन राणा, छात्र नेता किरनपाल सिंह, ठाकुर सौरभ राणा, कुंवर हसरत खान, नफीस अहमद, मोहित भारद्वाज उर्फ मोंटी पंडित, रीतेश यादव, संजीव खत्री, मो नासिर, मनोज बघेल, फैजान खान, आसिफ खान, अजीम आरिफ, मो दाऊद, शहजाद, जयकिशन दीक्षित भी कांग्रेस में शामिल हुए।

एनएसयूआई और यूथ कांग्रेस को मिलेगी मजबूती
अलीगढ। सोमवार को छात्र राजनीति के दो चर्चित चेहरे कांग्रेस में शामिल हुआ हैं। जिले की छात्र राजनीति को दिशा देने वाले जियाउर्रहमान एडवोकेट और रंजन राणा के कांग्रेस में आने से एनएसयूआई और युवक कांग्रेस के संगठन को गति मिलना तय है। दोनों ही नेता छात्र आंदोलनों के लिए प्रसिद्द हैं और छात्र नेता बनाने की मशीन कहे जाते हैं। अलीगढ की युवा और छात्र राजनीति के अधिकांश सक्रिय चेहरे इन्ही दोनों नेताओं की दें हैं |

सक्रिय मुस्लिम चेहरे की कमी को करेंगे पूरा
अलीगढ। रालोद और सपा में रहकर सुर्ख़ियों में रहे छात्र नेता जियाउर्रहमान अलीगढ सहित पश्चिमी यूपी की सियासत में चर्चित युवा चेहरा हैं। अलीगढ में शहर से लेकर देहात तक वह लोगों की चर्चाओं में रहते हैं। मुस्लिम सहित सभी वर्गों में उनकी पकड़ है। कट्टरपंथी सियासत से दूर जियाउर्रहमान के कांग्रेस में शामिल होने से जिले में कांग्रेस के लिए सक्रिय मुस्लिम चेहरे की कमी दूर हो जाएगी। माना जा रहा है कि जियाउर्रहमान कांग्रेस में सक्रिय रहकर कई मुद्दों को हवा दे सकते हैं|

कुछ न्यूज चैनलों की कवरेज देखें-

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *