पत्रकार अमित बन गए साउंड थेरेपिस्ट!

सत्येंद्र पी एस-

अमित कुमार निरंजन जी अभी गोरखपुर में हैं। स्पेशल करेस्पांडेंट के रूप में तमाम खबरें ब्रेक करने के बाद वह अब साउंड थेरेपी के एक्सपर्ट बन गए हैं।

अमित की तमाम रिपोर्टों ने ओबीसी और ओबीसी के खिलाफ नियुक्तियों में हो रही ज्यादतियों के बारे में ठोस समझ का एक मौका दिया था। उनकी तमाम रिपोर्ट्स का इस्तेमाल मैंने अपनी नई किताब में किया है। सोशल मीडिया में उन्ही की खबरों की क्लिपिंग लगाकर अखबारों को गरियाया जाता था कि अखबार यह सब नहीं छापते। अमित से मैं इतना प्रभावित हुआ कि उनसे मिलने की इच्छा हुई। केंद्रीय मंत्री व सांसद रहे शरद यादव के आवास पर पहली बार उनसे मिला।

वह मुझे आरक्षण की लूट, एससी एसटी ओबीसी पर होने वाली ज्यादतियों के बारे में मुझे समझाने में सफल हो गए थे।

अब उनसे बुद्धिज्म, समाज में होने वाली अप्रत्याशित घटनाओं, अनसोची अनचाही चीजें अचानक हो जाने, कर्म और परिणाम में कोई सम्बन्ध न दिखने जैसे विषयों पर जानने की कोशिश कर रहा हूँ। यह इतना जटिल विषय है कि वो साल भर से मुझे समझा रहे हैं, ईमानदारी से बताऊं तो एक लाइन भी अब तक मेरे पल्ले नहीं पड़ी है।



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code