दुर्व्यवहार से नाराज रायपुर की तीन महिला पत्रकारों ने रिपोर्ट दर्ज कराई

रायपुर प्रेस क्लब कार्यकारिणी बैठक में अदालत परिसर में महिला पत्रकारों के साथ पुलिस कर्मियों ने जो दुर्व्यवहार किया उसकी निंदा की गई। सभी पत्रकार साथियों ने जो एकजुटता का परिचय दिया, उसका आभार व्यक्त किया गया। देर रात एसपी संजीव शुक्ला के साथ वरिष्ठ पत्रकार रूचिर गर्ग और सुनील कुमार के नेतृत्व में जो चर्चा हुई, उससे प्रेस क्लब ने सहमति जताई। एसपी संजीव शुक्ला ने पत्रकारों की मांग पर एक टीई गौरव तिवारी के निलंबन के साथ ही दंडाधिकारी जांच की मांग को स्वीकार किया, इस पर सभी पदाधिकारियों ने संतोष व्यक्त किया।

साथ ही कार्यकारिणी ने यह मांग की कि घटना की दंडाधिकारी जांच के साथ-साथ विभागीय जांच कर दोषी पुलिस अधिकारियों पर जिनके खिलाफ तीन महिला पत्रकार श्रेया पांडे, अंकिता शर्मा, रजनी ठाकुर ने अलग-अलग रिपोर्ट दर्ज कराई हैं। समुचित कार्रवाई के जरिए पत्रकार जगत में विश्वास का महौल पुनः स्थापित किया जाए। जिससे निडर होकर महिला पत्रकार अपनी जिम्मेदारीपूर्ण पत्रकारिता का निर्वहन कर सकेंगे।बैठक में प्रेस क्लब अध्यक्ष के.के. शर्मा, महासचिव सुकांत राजपूत, उपाध्यक्ष सुखनंदन बंजारे, संयुक्त सचिव प्रफुल्ल ठाकुर, ममता लांजेवार, कोषाध्यक्ष मोहन तिवारी सहित कार्यकारिणी सदस्य सुशील अग्रवाल, प्रदीप दुबे, ओ.पी. चन्द्राकर, अनवर कुरैशी, मृगेन्द्र पाण्डेय उपस्थित थे।

xxx

दिनांक 30.10.2017 को रायपुर प्रेस क्लब कार्यकारिणी मंडल के आपात बैठक के निर्णायानुसार प्रतिदिन प्रेस क्लब का कार्यालिन समय प्रात:10.30 बजे से शाम 7 बजे तक निर्धारित किया गया है। इसमें प्रेस क्लब के मुख्य द्वार को भी बंद किया जाएगा। प्रेस क्लब प्रागण में 7 बजे के बाद वाहन की जवाबदारी स्वंय वाहन मालिक की होगी।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *