वरिष्ठ पत्रकार विनोद मेहता का निधन

AAA VINOD MEHTA

नई दिल्ली। आउटलुक के संस्थापक संपादकीय प्रमुख और संपादकीय अध्यक्ष, वरिष्ठ पत्रकार विनोद मेहता, 73, का रविवार सुबह निधन हो गया। वे काफी समय से बीमार चल रहे थे। मेहता का जन्म रावलपिंडी में हुआ था। पत्रकारिता में उन्होंने काफी लंबे समय तक अपना योगदान दिया। उनकी मौत से मीडिया जगत को धक्का लगा है। मेहता ने आउटलुक को नई पहचान दिलाई।

मेहता ने कई पब्लिकेशंस को सफलता पूर्वक लांच किया जिनमें ‘द संडे ऑब्ज़र्वर’ ‘द इंडिपेन्डेन्ट’ और ‘द पॉयनियर’ शामिल है। उन्होने अभिनेत्री मीना कुमारी और राजनीतिज्ञ संजय गांधी की बायोग्राफीयां भी लिखीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक जताया है। देश के बड़े पत्रकारों में शुमार विनोद मेहता एडिटर्स गिल्ड के अध्यक्ष भी रहे। वह पत्रकार ही नहीं, लेखक के रूप में भी चर्चित रहे। उनके मन-मिजाज के रंग निराले थे। उन्होंने अपने कुत्ते का नाम ‘एडिटर’ रख रखा था।

 


विनोद मेहता का पुराना और बेबाक इंटरव्यू पढ़ने के लिए इस शीर्षक पर क्लिक करें…

जब सब दलाल हो जाएंगे तो प्रिंट मीडिया का सत्यानाश हो जाएगा : विनोद मेहता


विनोद मेहता के बारे में ज्यादा जानने के लिए इन शीर्षकों पर क्लिक करते जाएं और पढ़ते जाएं….

सिधार चुके संपादकों की पोल खोलकर फंसे विनोद मेहता

xxx

संपादक कभी इतना बूढ़ा नहीं होता कि नई चीज न सीख सके… देखिए विनोद मेहता को…

xxx

विनोद मेहता की किताब : आउटलुक के मालिक के यहां छापे डालने के पीछे की कहानी

xxx

दो खाली सूटकेस लेकर विदेश जाने वाले ये दो संपादक!

xxx

मालिकों को मुश्किल में डालते हैं विनोद मेहता!

xxx

पीएसी के समक्ष पेश हुए विनोद मेहता और मनु जोसेफ

xxx

विनोद मेहता, महेश्वर पेरी हाजिर हों

xxx

मीडिया घरानों का बाजार से स्वार्थ है : विनोद मेहता

xxx

अरुण शौरी और दिलीप पडगांवकर के खिलाफ विनोद मेहता की भड़ास

xxx

विनोद मेहता के बयान से दुखी हैं काटजू, लिखा पत्र

xxx

एडिटर इन चीफ विनोद मेहता आउटलुक से रिटायर, कृष्‍णा प्रसाद ने संभाली कुर्सी

xxx

नरेश मोहन ने पूछा था- अपने ही अखबार में संपादक के खिलाफ कैसे छपा?



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code