सिविल सर्विस एग्जाम में 662 रैंक पाने वाली प्रतीक्षा सिंह ने सचमुच बहुत संघर्ष किया है!

Brijesh Tiwari-

प्रतीक्षा सिंह ( UPSC 662 रैंक) पर एक सुपरहिट फिल्म बन सकती है। जन्म के 13 वें दिन से पिता गायब। ससुराल में स्थिति सही नही थी।ससुराल से कोई मदद नही मिलने के कारण मां मायके आ गईं। आज भी हक के लिये केस चल रहा है।

प्रारंभिक शिक्षा गांव के प्राथमिक स्कूल से। 6th में जवाहर नवोदय विद्यालय लखनऊ में प्रवेश।

प्रवेश के 2 साल बाद मां ने भी नवोदय में matron की नौकरी संविदा पर जॉइन की। जोकि अभी भी नवोदय में हैं।

सालों लोगों के तानों के बीच मां ( श्रीमति गुड्डी सिंह) के आशीर्वाद से प्रतीक्षा सिंह ने 12वीं में नवोदय विद्यालय लखनऊ में टॉप किया। फिर एमिटी यूनिवर्सिटी लखनऊ में B.Tech. में प्रवेश लिया और लगातार 95 %से ज्यादा नंबर ला कर स्कॉलरशिप के जरिये एमिटी यूनिवर्सिटी जैसे महंगी यूनिवर्सिटी से सफलता पाई। 2006 से होस्टल ही मां और बेटी का घर है।

लगातार कठिन परिश्रम के जरिये PCS में सफलता पाई।

परंतु प्रतीक्षा सिंह ने तो कुछ और ठान रखा था और 3सरे प्रयास में 25/09/2021 को UPSC में 662 वीं रैंक ले कर आईं। IPS या IRS पक्का है

मैं 2016 से इस परिवार को अच्छी तरह जानता हूँ। लक्ष्य पर निगाह हो और पूरी लगन से तैयारी हो तो कुछ भी संभव है।

प्रतीक्षा को अभी और आगे जाना है।

उम्मीदें तकलीफ बहुत देतीं हैं।

पर ना जाने क्यूं फिर भी उम्मीद रहती है।

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code