कश्मीर घटनाक्रम पर नार्वे के अखबार की टिप्पणी और पाकिस्तान के अखबार का कवरेज पढ़ें-देखें

Praveen Jha : नॉर्वे के राष्ट्रीय अखबार में कश्मीर पर संपादकीय टिप्पणी पढ़ें… “कश्मीर का विशेष स्थान खत्म करना एक राजनैतिक पैंतरा है जिससे शेष भारत में पकड़ मजबूत होगी। हिंदू राष्ट्रवाद के लिए यह एक आवश्यक फैसला था, जिससे अब दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में भविष्य में उनकी विजय सुनिश्चित रहेगी। भारत के प्रधानमंत्री दो नावों पर सवार हैं- एक अर्थव्यवस्था, दूसरा हिंदू राष्ट्रवाद। जब एक डगमगाता है, तो दूसरे में चप्पू चलाना तेज कर देते हैं। फिलहाल भारत की अर्थव्यवस्था अच्छी हालत में नहीं है। भारत और पाकिस्तान के मध्य तनाव बरकरार रहेगा, बल्कि बढ़ने की उम्मीद है। पाकिस्तान ने फैसले की निंदा की है। डोनाल्ड ट्रंप के मध्यस्थता की पेशकश को जोरदार झटका लगा है।”

Abhishek Parashar : पाकिस्तान अखबार ”द डॉन” का आज का फ्रंट पेज है यह. अखबार ने आर्टिकल 370 हटाए जाने के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन की जिन तस्वीरों को अपने लीड कॉलम में इस्तेमाल किया है, उसमें से तीन तस्वीरें भारत की हैं. एक सबसे कमजोर तस्वीर लाहौर में हुए प्रदर्शन की है.

सौजन्य : फेसबुक

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code