गोदी एंकरों पर व्हाटसअप विश्वविद्यालय ने लांच कर दी ये कविता :)

हेलो, अंजना
जी पापा
आज क्या खबर बनाओगी?
जो आप कहें
आज तुम बनाओ कि मेरे अचानक पहुंचते ही चीन दहशत में!
ठीक है पापा।

हलो, रुबिका
जी अब्बा
आज क्या खबर बनाओगी
जो आप कहें
आज तुम बनाओ मेरे पहुंचते ही चीन के होश उड़े
ठीक है अब्बू।

हलो, चित्रा
जी मौसा जी
आज क्या खबर बनाओगी?
जो आप कहें मौसा जी
आप खबर बनाओ कि मेरे पहुचते ही चीन के छक्के छूटे
ठीक है मौसा जी।

हलो, श्वेता
जी जीजा जी
आज क्या बना रही हो?
जी सूजी का हलवा
अरे खबर में पूछ रहा
अच्छा जो आप कहें जीजा जी
आज खबर बनाओ कि मेरे पहुंचते ही चीन को दस्त लग गए।

अबे अरनब सुन
जी पापा
तू क्या खबर बनायेगा?
पापा, मैं बताऊंगा लेह पहुंचते ही जिनपिन को आया हार्ट अटैक।

सुनो, अमिश
जी पापा
तू क्या खबर बना रहा है आज?
पापा मैं बताऊंगा कि मोदी के पहुँचने से पहले ही फूली चीनियों की सांस।

हलो, सुधीर
जी हुजूर
तू क्या खबर बनायेगा?
मै बना रहा हूं आज लेह पहुंचते ही चीन ने अपनी सेना वापस बुला ली।

कौए, दीपक
जी सर
तू क्या खबर बनायेगा?
मैं बना रहा हूँ कि मोदी के लेह पहुंचते ही चीन ने गलवान छोड़ा।

हलो, रजत
जी सर
तुम क्या खबर बना रहे?
मैने खबर बनाई है कि मोदी के पुतिन के साथ अंतरंग संबंधों का फायदा नहीं उठा पायेगा चीन।

हलो, एनडीटीवी
जी मैं रवीश बोल रहा हूं
सारी गलती से लग गया।
कोई बात नहीं सर, आ जाऊं इंटरव्यू के लिए?
“इस नंबर पर यह सुविधा उपलब्ध नही है
कृपया नंबर जांच ले”

(व्हाटसअप विवि से प्राप्त कविता)

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Comments on “गोदी एंकरों पर व्हाटसअप विश्वविद्यालय ने लांच कर दी ये कविता :)

  • Vivek kumar says:

    गलवां घाटी में चीन क़रीब तीन किलोमीटर घुस आया था और हमारे पेट्रोलिंग पाइंट्स पर जम गया था । डोवल साहेब जिस ऐतिहासिक विजय की खबरें लीक करवा रहे हैं और मीडिया सोहर गा रहा है उसके अनुसार दोनों सेनाओं ने आज की स्थिति दो दो किमी पीछे हटकर चार किमी का बफ़र ज़ोन बनाना तय किया है । तो चीन हिंदुस्तानी दावे के क्षेत्र में क़ब्ज़ा किये तीन किमी में से दो किमी बफ़र ज़ोन में छोड़ देगा और भारत से उसके क़ब्ज़े में बचे हिस्से से दो किमी और बफ़र ज़ोन में छुड़वा लेगा , इसे विजय बताया जा रहा है ।

    यानि हमारी ज़मीन में चार किमी का बफ़र ज़ोन बनवाना हमारी विजय है ! ऐसे ही कमाल होंगे अब और ताली भी बजानी पड़ेगी!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *