मायावती ने आजमगढ़ में बसपा की रैली में नरेंद्र मोदी को साबुन लगा लगा कर खूब धोया…

यह मोदी सरकार भी कम घोटालेबाज नहीं है : मायावती

Yashwant Singh : मायावती ने आजमगढ़ में बसपा की रैली में नरेंद्र मोदी को साबुन लगा लगा कर खूब धोया… लाखों की भीड़ से बार बार पूछा कि महंगाई घटी, राशन सस्ता हुआ, नौकरी मिली, मकान मिला, रुपया एकाउंट में आया… जनता ने हर बार ना कहा. व्यापम घोटाला, विजय माल्या घोटाला, ललित मोदी घोटाला, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के घोटालों का जिक्र कर मायावती ने बताया कि यह मोदी सरकार भी कम घोटालेबाज नहीं है.

मायावती ने देर तक जमकर बोला. उनको टीवी पर शुरू से अंत तक सुनने के बाद समझ में आया कि वह बहुत मेच्योर नेता हैं जो अपने वोट बैंक या अपने टारगेट आडियेंस को बहुत ही कायदे से समझती हैं और उसे कायदे से समझा ले जाती हैं, कनवींस कर ले जाती हैं. मुलायम की छाती पर यानि आजमगढ़ में इतनी सफल रैली करके मायावती ने दिखा दिया है कि यपी में बसपा का अंडरकरंट है और वह लीड ले चुकी हैं.. सर्वे, मीडिया वाले चाहे जो करें और सोशल मीडिया वाले अपर कास्टी चाहें जो नारे लगाएं..

एक सूचना ये भी है कि मायावती ने ज्योंही अपना भाषण आजमगढ़ में शुरू किया, यूपी के कई इलाकों में बत्ती गुल हो गई. कुछ लोगों ने भड़ास निकाली कि शायद अखिलेश बुरी तरह डर चुके हैं अपनी बुआ से इसीलिए लाइन कटवा दिए ताकि प्रदेश के दूसरे इलाके के लोग अपने अपने टीवी पर बुआ का लाइव भाषण न सुन सकें. भगवान जाने क्या सच है क्या झूठ 🙂

भड़ास के एडिटर यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

उपरोक्त स्टेटस पर आए कुछ प्रमुख कमेंट्स इस प्रकार हैं….

पवन उपाध्याय भाई कोई जाके बहन जी को बतावो कि यूपी में मोदी की नहीं सपा वाले अखिलेश सिंह यादव की सरकार है। जीत से कोसो दूर की बात समझ चुकी हैं मायावती इसलिए आज कि आजमगढ़ रैली में उनके भाषण में सिर्फ मोदी, अमित शाह, बीजेपी और संघ ही सुनाई दिया। परेशानी का भाव साफ झलक रहा था। पुरे भाषण में सिर्फ मोदी-मोदी-मोदी।

Vinay Maurya Sinner मगर भैया ….मायावती के शब्द नही थे….स्क्रीप्ट लिखा हुआ था बस पढ़ के जनता को सुना दीं।।

Yashwant Singh बकलोल लोग जिन्हें कह कर बोल कर याद नहीं रखना है कि क्या क्या बोला, उनसे तो अच्छा है सब कुछ लिखत पढ़त में रहे ताकि वह कभी पलट कर देखा जा सका कि क्या क्या बोला, क्या क्या वादा किया… फेंकू से तो बढ़िया ही है.. तुलना करके सोचो… 🙂

Pramod Gangwar purani kahabat hai kuttay bhokte hain hathi chala jata hai aaj kl congress bsp sp aap sbki haalat yhi hai

Gyan Deo Modi-Modi-Modi sabhi yahi ratate hai.Lagata hai esi naam se sabhi ka udhhaar hone wala hai.Kya samarthak kya virodhi.

Alok Singh भाईसाहब सिर्फ उत्तर प्रदेश में चुनाव है।बेहतर होता की बहन जी उत्तर प्रदेश सरकार की आलोचना करती और उनके किये गए कार्यो का हिसाब मांगती। मोदी को साबुन लगाने से बढ़िया होता की अखिलेश को साबुन लगाती। जहाँ तक मोदी के कार्यो का हिसाब है वह जनता 2019 के चुनाव में हिसाब किताब करेगी।बहन जी हो या ममता दीदी हो या केजरी चाचा हो सब मोदी चालीसा ही क्यों पढ़ते है।केजरी चाचा ने दिल्ली वासियों को मुंगेरी लाल के हसीन सपने दिखाने के बाद अब सिध्दू को सपने दिखा कर कही का न छोड़ा ।वही हाल पंजाबी भाई बहन का होगा।काम कुछ नहीं करना सिर्फ मोदी की गलतियों को गिनाना है इन महाभुनावो को। अपने गलतियों और कमजोरियों को छिपाने के लिए जोर से सामने वाले की गलतियों और कमजोरियों को गिनाने से अपने गुनाह कम नहीं हो जाते है।

Vishal Yadav यशवंत सर अब लाखों की भीड़ कहीं भी जुटा लेना बड़े नेताओं के बाएं हाथ का खेल हैं। लेकिन जमीनी स्तर पर लोग अखिलेश यादव की तारीफ़ कर रहे हैं। सपा बहोत बढ़त ले चुकी है।

Nirupma Pandey Sp to nahi aayegi ab …lko ke dm ka hatna bhi inka minus point ho gaya

Vivek Dutt Mathuria फाइट तो मायावती से ही करनी होगी… यह भी तय है महंगाई, भ्रष्टाचार और कालेधन जैसे सवालों से भाजपा को सामना करना पड़ेगा…

Pradeep Kaushal Rajya me kisi ki bhi sarkar rahe center me to BJP hi rahegi

Syed Mazhar Husain कमसेकम मायावती मतलब अखिलेश की बुआ जी पढ़कर बोलती है ये तो बेहतर है चाहे खुद लिखती है या लिखाती हो सही तो बोलती है ऊल जलूल तो नहीं बोलती न कुछ तो कर गुजरेंगी इस इलेक्शन में सपा को तो नुकसान उठाना ही उठाना है ये तय है

आचार्य सुभाष विक्रम आजमगढ़ में बसपा का मजबूत जनाधार है , और इनकी हर रैली यहां पर बहुत सफल होती है । पिछले इलेक्शन को छोड़ कर हर बार कम से से कम 4 या 5 सीट बसपा जीतती ही है आजमगढ़ से । इस बार भी यही प्रदर्शन रहेगा ।

पवन उपाध्याय भीड़ की ही बात करेंगे तो बीजेपी के गढ़ वाराणसी में सोनिया गांधी ने भी खूब भीड़ जुटाई थीं। तो क्या कांग्रेस आ रही है?

Singhasan Chauhan क्या अभी भी आपको समाजवादी पार्टी में कुछ बचा हुआ नजर आता है ?

Prashant Mishra यूपी में न कोई बढ़त में है ना कोई घटत में । फिलहाल तरल स्थिति। एकदम तरल…… रोड शो के बाद भी और रैली के बाद भी….

Praveen Shekhar yashwant जी  अब भीड़ वोट बनने का पैमाना नहीं रहा  बिहार में ये बाते मैंने नजदीक से देख ली  वैसे अभी कह दू तो आपको जल्दीबाजी लगेगी पर मिलते है अगले साल
कमेंट ध्यान रखियेगा  बहुत बुरी है अखलेश सरकार पता है मुझे फिर भी मायावती से ज्यादा सीट लाएगी  दिन लद गए BMW के

Rajeev Chandel सबसे सुन्दर समीक्षा .

Suresh Gandhi सच तो यही है। रहा सवाल सर्वे का तो पेड न्यूज के दौर में विश्वसनीयता खत्म हो गई है । कल तक मायावती की बढत बताने वाले अब गुन्डाराज की बात कर रहे हैं । दावा कर रहे है फिर से गुन्डो की सरकार बनेगी । जबकि अभी अमित शाह का आफर मिला ही नहीं है । यानी मतदान के दौरान ये पेड न्यूज वाले भाजपाइयों की सरकार बनवाते दिखेंगे

Amit Mahakal विधवा प्रलाप है ये

Arif Beg Aarifi unnao me bhi subah se batti gul hai

Awani Singh उनकी तकलीफ समझी जा सकती है सरकार अखिलेश की, कोसा मोदी को भविष्य का भान हो चूका है उन्हें

Ashish Jain yaswant bhai magar modi ji thodi naa up cm ke liye khade hai ko behan ku mayawati un ke naam se chati peet rahi hai rajya ki durdash ke liye toh sp aur moolayum family jimedaar hai ab is beech mai modi kaha se aaya tanik tarkpoorn baat karke samjahiye

Satyendra Pratap Singh सहमत.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *