छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क सचिव पर मीडिया और पत्रकारों पर दबाव डालने का आरोप, पद से हटाने की मांग

छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो को पद से हटाने के लिए ज्ञापन दिया

एक्टविस्ट कुणाल शुक्ला ने छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क सचिव राजेश सुकुमार टोप्पो को तत्काल हटाने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को ज्ञापन सौंपा जिससे आगामी विधानसभा चुनाव निष्पक्ष रूप से हो सकें।

कुणाल शुक्ला ने अपने अधिकृत बयान में कहा है कि अगर सात कार्यालयीन दिवस के अंदर छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यवाही नहीं करेंगे तो वह दिल्ली जा कर देश के मुख्य चुनाव आयुक्त को शिकायत सौंपेंगे। जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो को पद से हटाने हेतु दिया गया ज्ञापन इस प्रकार से है-

प्रति, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

छत्तीसगढ़ (रायपुर)

संदर्भ: जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो को तत्काल पद मुक्त करने हेतु, जिससे आगामी विधानसभा चुनाव निष्पक्ष हो सकें

विषय: जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो द्वारा पद का दुरूपयोग करना, सरकार के पक्ष में मीडिया और पत्रकारों पर दबाव डालना।

महोदय,

न्यूज़ चैनलों और अन्य मीडिया माध्यमों में सरकारी दखल और पेड न्यूज़ की लगातार शिकायते आ रही है। जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो के माध्यम से सरकारी दबाव और भय की वजह से छत्तीसगढ़ में मीडिया निष्पक्ष खबरों को प्रकाशित करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है।

सरकारी विज्ञापनों के बहाने मीडिया पर पेड न्यूज़ का जबरदस्त दबाव बनाए जाने की बातें पत्रकार दबी जुबान से कई जगह कर रहे है। अखबारों और न्यूज़ चैनलों में भाजपा पार्टी की सरकार लाखों रुपये का विज्ञापन देकर न केवल अपबे मनमाफिक खबरो का प्रकाशन करवा रही है बल्कि विपक्ष की खबरों को प्रकाशन और ठीक ठाक जगह नही देने का भी दबाव जनसंपर्क विभाग के सचिव राजेश टोप्पो के माध्यम से बना रही है।

इस अनैतिक दबाव में न्यूज़ के रूप में न्यूज़ चैनल और अखबार विज्ञापनों का प्रकाशन कर आम चुनाव के समय जनता को दिग्भ्रमित कर रहे है।जिससे निष्पक्ष चुनाव की उम्मीद पूर्णतः खत्म हो जाती है। मुख्यमंत्री की विकास यात्रा की न्यूज़ कवरेज के लिए लाखों रुपये विज्ञापन जन सम्पर्क विभाग द्वारा देकर दबाव बनाया जा रहा है।

जो पत्रकार सरकार के मुताबिक उनकी खबरों का प्रकाशन नही कर रहे है उन मीडिया हाउसेस को चिन्हांकित कर उनके विज्ञापन रोके जा रहे है और दबाव बनाकर पत्रकारों का तबादला कराया जा रहा है या नौकरी से निकलवाया जा रहा है। सरकार के जन सम्पर्क विभाग का काम सरकार की नीतियों का प्रचार प्रसार है लेकिन प्रचार प्रसार के लिए होने वाले विज्ञापनों के खर्च के बहाने ये विभाग मीडिया संस्थानों पर बीजेपी और सरकार के पक्ष में माहौल बनाने का दबाव बना रहा है।

विकास यात्रा की तमाम खबरे पेड न्यूज़ की तरह ही है। हर खबर का और लाइव प्रसारण का पैसा मीडिया को दिया जा रहा है। इसके विपरीत विपक्ष के बड़े से बड़े मुद्दों को मीडिया में दबाने का पूरा दबाव भी ये विभाग बना रहा है।इसके अलावा विपक्ष को नुकसान पहुचाने वाली खबरो को प्रमुखता से प्रकाशित करने के भी निर्देश ये विभाग अक्सर मीडिया संस्थानों को देता है ।

अतः जनसंपर्क सचिव राजेश टोप्पो को तत्काल उनके पद से हटाया जाए जिससे छत्तीसगढ़ में आगामी विधानसभा चुनाव निष्पक्ष रूप से हो सकें।

आवेदक

कुणाल शुक्ला
C-20,शैलेन्द्र नगर
रायपुर (छग) 492001
9926555050
9827151166


कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क सचिव पर मीडिया और पत्रकारों पर दबाव डालने का आरोप, पद से हटाने की मांग

  • हो सकता है खबर भेजने वाला भी कोई सेटलमेंट की चाहत रखता हो

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *