श्रीकांत त्यागी को लंगड़ा त्यागी क्यों कहा जा रहा?

अपूर्व भारद्वाज-

लँगड़ा त्यागी ..बाहुबली.. बाहुबली.. श्रीकांत त्यागी

बहुत साल पहले एक फ़िल्म आई थी नाम था ओमकारा..उसमें एक किरदार था लंगड़ा त्यागी ..वो दिन रात गाली बकता था उसका मुख्य काम लोगो जमीनों पर कब्जा करना,नकली शराब बेचना औऱ नेताओ के लिए वसूली करना था।

लंगड़ा त्यागी बहुत ही महत्वाकांक्षी आदमी था वो पुराने बाहुबली को मारकर नया बाहुबली बनना चाहता था ताकि वो अगला विद्यायक बन सके इसके लिए वो अपने बाहुबली ओमी भैया की उसकी शादी तक तुड़वा देता है।

लँगड़ा त्यागी देवी का उपासक था वो कहता था। कि जँहा नारी को पूजा जाता है वहाँ देवता बसते है लेकिन वो खुलेआम अपने सरे आम माँ बहन की गाली बकता था और उसे भैया बोलने वाली बाहुबली की पत्नी का चरित्र हनन करने से भी नही चुकता है वो अपनी बीवी को भी वो केवल उपयोग की वस्तु समझता था उसकी बीवी बोलती थी उसने अपने अंदर एक जानवर पाल रखा है।

एक दिन यह जानवर लंगड़ा त्यागी एक राष्ट्रवादी राजनीतिक पार्टी ज्वाइन कर लेता है औऱ तब वो अपने सारे पापों का त्याग करके लँगड़ा त्यागी से श्रीकांत त्यागी बन जाता है फिर बैकग्राउंड से भक्तों की जोर जोर से आवाज आती है लँगड़ा त्यागी .. बाहुबली.. बाहुबली.. श्रीकांत त्यागी!



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.