सहारा के पीड़ित कर्मियों को मिला आंदोलन के पितामह अण्णा हजारे का आशीर्वाद (देखें तस्वीरें)

सहारा प्रबंधन द्वारा तनख्वाह न दिये जाने जाने से भूखे पेट काम करने वाले कर्मचारी यूनियन के सदस्यों ने रालेगण सिद्धी गांव में अण्णा हजारे से आशिर्वाद लिया. इसके साथ ही कर्मचारियों ने एक स्वर में यह निर्णय लिया की अब भूखे पेट की लड़ाई को मात्र विनंती पत्रों के दायरे से निकालकर आंदोलन का रूप दिया जाएगा. इस महीने की शुरूआत का पहला हफ्ता बीत गया है और महाराष्ट्र के कुलदेवता कहे जाने वाले भगवान गणपति के आगमन की तैयारी शुरू हो गई है लेकिन सहारा इण्डिया के कर्मचारियों का घर सूना है. इन पीड़ित कर्मचारियों को उम्मीद थी कि, भूखे पेट और परेशान परिवारों के आंसू को अनेदखा कर रहे प्रबंधन को शायद विघ्न विनाशक गणपति की सुध होगी जिसके बाद यह  तनख्वाह दे देंगे, लेकिन उसका रूख अड़ियल है.

ये मीडिया का आदमी है, इसे गोली मार देते हैं वरना बाद में दिक्कत करेगा!

Praveen Sahni : ‘समाचार प्लस’ चैनल में कार्यरत आशीष चित्रांशी के साथ बीती रात लुटेरों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया। गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन इलाके में देर रात एक बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने पत्रकार आशीष चित्रांशी की बाइक के आगे अपनी बाइक लगा दी। इससे पहले आशीष कुछ समझ पाता बाइक से उतरकर दो बदमाशों ने तमंचे की बट से उस पर हमला बोल दिया। बदमाशों के हमले में आशीष बुरी तरह लहुलुहान हो गया। इस दौरान उन्होंने आशीष का मोबाइल, पर्स और जेब में रखी नगदी लूट ली।

प्रवीण साहनी ने ‘वांटेड’ में मोनू पहाड़ी की कहानी दिखाई तो तीसरे ही दिन यह दुर्दांत अपराधी हुआ गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड के चर्चित न्यूज चैनल ‘समाचार प्लस’ के लोकप्रिय क्राइम शो ‘वांटेड’ और इसको एंकर करने वाले पत्रकार प्रवीण साहनी ने बड़ी सफलता हासिल की है. ‘वांटेड’ शो में बीते शनिवार को अपराधी मोनू पहाड़ी के बारे में दिखाया गया. तीन दिन बाद आज एसटीएफ ने मोनू पहाड़ी को कानपुर में अरेस्ट कर लिया. कानपुर में आतंक का पर्याय बन चुका था मोनू पहाड़ी. कानपुर के अलावा बिजनौर और वाराणसी में भी मोनू का आतंक था.