शिव सेना के ‘सेकुलराइजेशन’ पर ये कार्टून न देखा तो क्या देखा!

हजार शब्दों की कहानी को बस एक कार्टून के जरिए कहा जा सकता है. कार्टून को समझने के लिए किसी भाषा का मोहताज होना भी जरूरी नहीं.

जैसे इसी कार्टून को देख लीजिए जो न अंग्रेजी में है न उर्दू में और न हिंदी में. पर इसे आसानी से समझा जा सकता है. शिव सेना को कट्टर हिंदूवाद और कट्टर मराठावाद के लिए जाना जाता रहा है.

पर उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में शिव सेना ने दो अलग अलग पार्टियां कांग्रेस और एनसीपी की मदद से महाराष्ट्र की कुर्सी को नेतृत्व देना तय किया तो उसी समय यह स्पष्ट हो गया कि शिव सेना का अब सेकुलराइजेशन हो गया है.

वैसे भी, कहा जाता है कि विचारधाराएं बस तब तक होती हैं जब तक सत्ता की डोर नहीं मिल जाती. सत्ता मिलते ही विचार चले जाते हैं तेल लेने.

तो फिलहाल देखिए कार्टून कि कैसे शरद पवार और सोनिया गांधी मिलकर उद्धव ठाकरे के विचार को कुतर कुतर कर तेल लेने भेज रहे हैं….


कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “शिव सेना के ‘सेकुलराइजेशन’ पर ये कार्टून न देखा तो क्या देखा!”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *