CBI ने बाहुबली अतीक के साले को उठाया, 6 ठिकानों पर छापेमारी

अहमदाबाद जेल में बंद पूर्व सांसद बाहुबली अतीक अहमद के प्रयागराज स्थित बंगले, दफ्तर और लखनऊ स्थित फ्लैट के साथ छह स्थानों पर बुधवार सुबह सीबीआई ने छापा मारा। छह अलग-अलग टीमों ने एक साथ कार्रवाई शुरू की। इसके साथ ही सीबीआई टीम चकिया स्थित अतीक की ससुराल, मोहत्सिमगंज में उनके कैशियर फारूक और खुल्दाबाद में पीआरओ जफर उल्लाह के घर भी जांच करने पहुंचीं। शाम को सीबीआई टीम अतीक के साले जकी अहमद को गिरफ्तार कर साथ ले गई।

अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन और बेटे अली अहमद, असद अहमद, ऐजम और आबान बुधवार सुबह सोकर जागे ही थे कि 7:30 बजे भारी फोर्स के साथ सीबीआई ने छापा मारा। सीबीआई के आठ अफसर गेट खुलवाकर पुलिस फोर्स लेकर अंदर दाखिल हुए। फोर्स ने पूर्व सांसद के बंगले के दोनों तरफ दूर तक घेराबंदी करते हुए बंगले के पीछे वाले गेट पर भी पहरा डाल दिया। आरएएफ व पीएसी के जवानों ने दूर तक मोर्चा संभाल लिया। टीम ने न किसी को अंदर जाने दिया और न किसी को बाहर आने दिया। दोपहर में ताले काटने के लिए टीम ने कटर मंगाया। अटकलें लगायी जाती रहीं कि तिजोरी और बक्सों के तालों को काटने के लिए टीम ने कटर मंगाया। टीम ने बंगले में एक-एक कमरों को खंगाला। छापे की सूचना पर पूर्व सांसद की बहन शाहीन और वकील खान सौहलत हनीफ भी पहुंचे लेकिन उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया।

सुबह 7:30 बजे ही सीबीआई की एक टीम ने अतीक के घर से कुछ दूर स्थित उनकी ससुराल में भी छापा मारा। यहां भी बाहर पुलिस के जवान तैनात कर टीम अंदर छानबीन में जुट गई। इस दौरान घर पर पुलिस से रिटायर अतीक के ससुर और महिलाएं मौजूद रहीं। टीम ने यहां भी किसी को न तो अंदर आने दिया और न बाहर। शाम को सीबीआई टीम ने यहीं से अतीक के साले जकी अहमद को गिरफ्तार कर लिया।इससे पहले एक टीम ने चकिया कर्बला में स्थित पूर्व सांसद के दफ्तर में भी छापा मारा । वहां तैनात कर्मचारी से ताला खुलवाकर टीम अंदर दाखिल हुई। बड़ी तादाद में फोर्स तैनात कर टीम छानबीन में जुटी। दो माले के दफ्तर में हर कमरे खंगाले गए। तीनों जगहों पर टीम देरशाम तक छानबीन में जुटी रही।

सीबीआई की एक टीम सुबह ही अतीक के पीआरओ जफर उल्लाह के घर खुल्दाबाद और दूसरी टीम कैशियर फारूक उमर के घर मोहत्सिमगंज पहुंची। टीम ने इन दोनों के घर भी बारीकी से छानबीन की। हालांकि यहां कार्रवाई दोपहर बाद ही खत्म कर टीम लौट गई। एक टीम ने लखनऊ के गोमती नगर स्थित अतीक के फ्लैट में भी छापा मारा। यहां भी टीम शाम तक छानबीन में जुटी रही।

अतीक अहमद के ठिकानों पर छापेमारी से हड़कम्प मचा हुआ है। देवरिया जेल में लखनऊ के कारोबारी मोहित जयसवाल की पिटाई मामले में कोर्ट के आदेश पर छापेमारी हो रही है.। अतीक पर आरोप है कि उन्होंने अपने गुर्गों से मोहित जायसवाल को अगवा करा लिया था और देवरिया जेल में पिटाई की थी। मोहित जायसवाल की चार कंपनियां भी अतीक और उसके गुर्गों के नाम पर करने का आरोप है। अतीक अहमद के खिलाफ मोहित जायसवाल ने सुप्रीम कोर्ट की शरण ली थी जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर नैनी सेन्ट्रल जेल से अतीक अहमद को अहमदाबाद जेल शिफ्ट किया गया है। कोर्ट के आदेश पर ही अतीक के ठिकानों पर छापेमारी की गयी है।

बाहुबली अतीक अहमद पर कुल 163 मुकदमे दर्ज हैं. इनमें हत्या का प्रयास, हत्या की साज़िश रचना, ठगी, प्रापर्टी हड़पना, रंगदारी वसूलने के मामले शामिल हैं।हालांकि कई मुकदमों में अतीक बरी भी हो चुका है। फिलहाल अतीक के ऊपर दर्ज 38 मुकदमे ट्रायल पर हैं।अतीक का इंटरस्टेट गैंग पुलिस रिकार्ड में दर्ज है, जिसमें 134 अपराधी शामिल हैं। अतीक के गैंग में उसका भाई अशरफ और कई रिश्तेदार भी शामिल हैं। 2007 में बसपा विधायक राजू पाल की हत्या के बाद अतीक पर पुलिस का शिकंजा कस गया था।

इलाहाबाद के वरिष्ठ पत्रकार जेपी सिंह की रिपोर्ट.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *