योगीराज में पत्रकारों के चरम दमन के खिलाफ पूर्वांचल के मीडियाकर्मी सड़क पर उतरे, देखें तस्वीरें

मिर्जापुर के डीएम के खिलाफ लामबंद हुए पत्रकार, काली पट्टी बांधकर निकाला मौन जुलूस… पत्रकार प्रेस क्लब के नेतृत्व में कई जिलों के सैकड़ों पत्रकार सारनाथ में हुए एकत्र

वाराणसी । जिलाधिकारी मिर्जापुर अनुराग पटेल ने पत्रकार पवन जायसवाल के साथ तो ऐसा कृत्य कर दिया कि सभी पत्रकारों को इमरजेंसी की याद आने लगी। प्रदेश, देश के साथ विदेशों तक मिर्जापुर के डीएम की थू-थू हुई। उसके बावजूद भी प्रदेश सरकार ने उनके खिलाफ कार्रवाई करना मुनासिब नहीं समझा। जिलाधिकारी के इस गलत रवैये से क्षुब्ध होकर पत्रकार प्रेस क्लब के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम पाठक के नेतृत्व में वाराणसी जिले के सारनाथ में तथागत भगवान बुद्ध की उपदेश स्थली से आज दिनांक 16 सितंबर 19 को अपराहन वाराणसी, चंदौली, जौनपुर, भदोही, मिर्जापुर, सोनभद्र, मऊ के सैकड़ों पत्रकारों ने बांह पर काली पट्टी बांधकर मौन जुलूस निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।

जुलूस में उपस्थित पत्रकारों ने कहा कि सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ को चाहिए कि तत्काल प्रभाव से मिर्जापुर के जिलाधिकारी अनुराग पटेल को निलंबित करके पत्रकार के खिलाफ दर्ज हुए झूठे मुकदमे को वापस ले ले क्योंकि जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने शासन के कुशल योजनाओ को कलंकित करने का कार्य किया है। इससे पत्रकारों के साथ समाज भी सदमे में है। पत्रकारों ने कहा कि मिर्जापुर के डीएम ने तो यह स्पष्ट कर दिया है कि सच लिखने वाले पत्रकारों की जगह समाज में नहीं बल्कि जेल में होगी। ऐसे डीएम को एक दिन भी अपने पद पर बने रहने का कोई औचित्य नहीं है। उन्हें तो स्वयं नैतिकता के आधार पर नौकरी से इस्तीफा दे देना चाहिए।

विरोध प्रदर्शन के बाद पत्रकारों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री व डीजीपी को ट्वीट कर जिलाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

ज्ञात हो कि पिछले महीने मिर्जापुर जिले के जमालपुर ब्लॉक क्षेत्र के सिउर प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को नमक रोटी खिलाए जाने के मामले को पत्रकार पवन जायसवाल ने खुलासा किया था। इससे प्रशासन की सारी पोल खुल गई थी। पहले तो डीएम अनुराग पटेल ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से लेकर प्रधानाध्यापक तक पर कार्यवाही कर दिया। परंतु बाद में डीएम ने भ्रष्ट अधिकारियों को बचाने के चक्कर में पत्रकार पवन जायसवाल के खिलाफ ही अहरौरा थाने में अपराधिक मुकदमा दर्ज करवा दिया।

मौन जुलूस में पीपीसी के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम पाठक, प्रदेश संयोजक विनय कुमार मौर्य, प्रदेश उपाध्यक्ष सोनू सिंह, प्रदेश संगठन मंत्री मदन मोहन शर्मा,पूर्वांचल प्रभारी पवन कुमार त्रिपाठी, पूर्वांचल संयोजक साजिद अंसारी, मंडल अध्यक्ष वाराणसी मुकेश मिश्रा, मंडल अध्यक्ष मिर्जापुर राहुल सिंह, मंडल उपाध्यक्ष मधुप श्रीवास्तव, पंकज भूषण मिश्र, मंडल महासचिव मिर्जापुर राहुल शर्मा,जिला अध्यक्ष वाराणसी पवन कुमार पांडेय, जिलाध्यक्ष जौनपुर कृपा शंकर यादव, जिला अध्यक्ष चंदौली आशुतोष तिवारी, जिला अध्यक्ष भदोही राजेश कुमार मिश्रा, जिलाध्यक्ष मऊ राजेश दुबे, जिलाध्यक्ष सोनभद्र तारा शुक्ला, प्रभारी जिला अध्यक्ष मिर्जापुर अनुराग दुबे, जिला संयोजक वाराणसी पंकज चतुर्वेदी, जिला संयोजक भदोही आशीष सोनी, जिला उपाध्यक्ष वाराणसी दयाशंकर मिश्र, वीरेंद्र पांडे, नवीन प्रधान, जिला उपाध्यक्ष जौनपुर अखिलेश जिला उपाध्यक्ष चंदौली प्रदीप कुमार गुप्ता, मदन मोहन मिश्रा, प्रशांत पांडेय, नासिर अली, लवकेश पांडे, अभिनव पांडे, मंसूर आलम, जमील अख्तर, तनवीर अहमद, सुधीर कुमार गुप्ता, कामाख्या नारायण पांडे, विशाल चौरसिया, राजू यादव, अजीत नारायण सिंह, आनंद चतुर्वेदी, देवेंद्र कुमार पटेल, अरविंद मिश्रा, सूरज केसरी, विजय साहनी, हरकिशन अग्रहरी, जफर खान, विकासचंद्र अग्रहरि, अवनीश यादव, राहुल कुमार यादव, चंदन कुमार, विनीत श्रीवास्तव, कृष्ण कांत मिश्र, अमित कुमार शुक्ला, सूरज कुमार द्वितीय,आकाश यादव, जमील अहमद, धीरेंद्र प्रताप सिंह, श्रीराम शुक्ला, सूरज तिवारी, अमरेश उपाध्याय, राजेश पांडे, गजेंद्र गुप्ता, चंदन दुबे, सुजीत कुमार, वीरेंद्र मौर्य, किशन पटेल, लोकपति सिंह, उमाशंकर मौर्य, आबिद अली, ओम प्रकाश चौधरी, महेश पांडे, विक्की मध्यानी, रामाश्रय मिश्र, राजेश सिंह, संतोष दुबे, भरत निधि तिवारी, अवनीश दुबे,इरफान हाशमी, उमेश उपाध्याय, किशन गुप्ता, मोहम्मद नसीम, दीपक मिश्रा, संजय कुमार सिंह, केके अस्थाना, दिलशाद अहमद, मोहम्मद जावेद, अंकित श्रीवास्तव, जाहिद खान, संजय सिंह दृतिय, प्रवीण कुमार, सुरेंद्र विश्वकर्मा, मनीष पाठक, अमित प्रताप, दीपचंद्र, बृजेश ओझा, बृजेश कुमार द्वितीय, विभास यादव, मनोज द्विवेदी, राजू प्रजापति, आशीष कुमार सिंह, इमरान खान, मुकेश साहू, जाहिद अली,आजाद अली, छोटेलाल तिवारी, त्रिपुरारी यादव, बाबू अहमद, कमलेश केसरी,श्याम मोहन मिश्रा, प्रदीप गुप्ता दृतिय,रामलाल साहनी ,ओम प्रकाश चौधरी,रामबाबू यादव, विनोद सिंह, शरद मिश्रा, आशीष गहलोत, मुकेश पांडे, प्रवीण तिवारी, आनंद तिवारी, अतिकेश श्रीवास्तव सहित सैकड़ों पत्रकार उपस्थित रहे।

राजीव सेठ
मंडल मीडिया प्रभारी
वाराणसी

चिन्मयानंद मसाज कांड के नए वीडियो देखें

चिन्मयानंद मसाज कांड के नए वीडियो देखें संंबंधित खबर https://www.bhadas4media.com/naye-videos-se-sansani/

Posted by Bhadas4media on Wednesday, September 11, 2019
कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “योगीराज में पत्रकारों के चरम दमन के खिलाफ पूर्वांचल के मीडियाकर्मी सड़क पर उतरे, देखें तस्वीरें

  • M.Shakil Anjum says:

    Sharmnaak ! Afsosnaak!

    aaj kal bahut dukhdayee khabro ka mausam sa aagya hai.lagta hai ki sach bolna jurm ho gaya hai.jhooth bolna punn samjha ja rha hai.jhooth bolne ka kaam to humare manniye karte hi hain to kisi aur ko jhooth bolne ki zarurat hi nhi.
    kabhi sochte hain ki hukumat ko kiya hogya hai akhir kiya chahti hai yeh hukumat ? chaap
    loosi,fareb ,makkari aadi to yeh to hone se raha. asal patarakar jaan jokhim me to daal sakta hai magar yeh sab nhi kar sakta.aisa karne ke liye humare desh ke manniye aur aunki fauj hi kafi hai.
    zulm jab jab apni charam seema ko langha hai tab tab ek tufan ne karwat li hai.main nhi kehta itihaas gawah hai.beshumar misaale mil jayengi.aaj hukumat ke alambardar aur auske ghulam hukmraan jis tarah se patarkaro ke rakheeb bane huye hain yeh achhi bat nhi .isse koi tarqqi nhi aane wali aur na hi kahin koi madel milne wala hai.
    hukumat ke samjhdaro ko chahiye ki aise ghinone karyo se khud bache aur apne matehato ko bhi bachayen behtar hoga.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *