Connect with us

Hi, what are you looking for?

टीवी

रोहित सरदाना के समर्थन में उतरा बीईए, धमकी दिए जाने की निंदा की

ब्राडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन यानि बीईए यानि टीवी चैनल्स के संपादकों की संस्था ने आजतक चैनल के एंकर रोहित सरदाना के समर्थन में एक बयान जारी कर उन्हें धमकाए जाने की निंदा की. बीईए प्रेसीडेंट सुप्रिय प्रसाद ने इस बारे में जो बयान जारी किया है, वह इस प्रकार है-

<script async src="//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js"></script> <script> (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({ google_ad_client: "ca-pub-7095147807319647", enable_page_level_ads: true }); </script><p>ब्राडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन यानि बीईए यानि टीवी चैनल्स के संपादकों की संस्था ने आजतक चैनल के एंकर रोहित सरदाना के समर्थन में एक बयान जारी कर उन्हें धमकाए जाने की निंदा की. बीईए प्रेसीडेंट सुप्रिय प्रसाद ने इस बारे में जो बयान जारी किया है, वह इस प्रकार है-</p>

ब्राडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन यानि बीईए यानि टीवी चैनल्स के संपादकों की संस्था ने आजतक चैनल के एंकर रोहित सरदाना के समर्थन में एक बयान जारी कर उन्हें धमकाए जाने की निंदा की. बीईए प्रेसीडेंट सुप्रिय प्रसाद ने इस बारे में जो बयान जारी किया है, वह इस प्रकार है-

Advertisement. Scroll to continue reading.

”BEA condemned vicious threats issued to Aajtak anchor Rohit Sardana for his tweets questioning bias over freedom of expression. He was slammed with life-threatening calls and msgs.The BEA urges the law-enforcement agencies to ensure safety and protection of Rohit n his family. such acts of intolerance in the world’s largest democracy that is constitutionally bound to protect free speech”.

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

0 Comments

  1. rahul kumar

    November 30, 2017 at 7:02 am

    Sardana had, on November 16, questioned the alleged bias in the way matters related to freedom of expression were tackled. Tweeting in the context of Sanal Sasidharan’s controversial Malayalam film S Durga, Sardana suggested that filmmakers tended to name films after women from the majority community, while refraining from names popular among minority communities. Sardana’s comments led to much furore on social media, and lead several fundamentalist groups to threaten him and his family with dire consequences.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : [email protected]

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement