पांच वर्षों में CBI अफसरों के खिलाफ भ्रष्टाचार की कुल 118 शिकायतें, 42 मामलों की जांच जारी

सीबीआई अफसरों पर भ्रष्टाचार के 19 सहित कुल 22 केस… केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा लखनऊ स्थित एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर को दी गयी सूचना के अनुसार पिछले 05 वर्षों में सीबीआई अफसरों के खिलाफ भ्रष्टाचार की कुल 118 शिकायतें प्राप्त हुईं. इन शिकायतों में 2015 में 13, 2016 में 27, 2017 में 26 तथा 2018 में सबसे अधिक 39 शिकायतें आयीं. 2019 में अब तक 13 शिकायतें आई हैं.

नूतन को दी गयी सूचना के अनुसार इन सभी शिकायतों की जाँच की गयी. सीबीआई के जन सूचना अधिकारी के अनुसार इनमे ज्यादातर शिकायतें फर्जी तथा आधारहीन थीं, जबकि कुछ मामलों में कार्यवाही हुई. अफसरों के नाम लिए बिना जन सूचना अधिकारी ने बताया कि एक अफसर का तबादला किया गया, एक को चेतावनी जारी की गयी तथा एक को मूल विभाग में वापस कर दिया गया. उन्होंने बताया कि अभी 42 शिकायतों में जाँच चल रही है.

जन सूचना अधिकारी ने नूतन को बताया कि सीबीआई के 14 मौजूदा अफसरों के खिलाफ 11 आपराधिक मुकदमों में विवेचना चल रही है जबकि 12 मौजूदा अफसरों के खिलाफ विभिन्न कोर्ट में 11 आपराधिक मामले प्रचलित हैं. इन 22 मुकदमों में 19 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में दर्ज हैं. इनमे 04 मुकदमों में 05 सीबीआई अफसरों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही शुरू की गयी है. उन्होंने बताया कि किसी सीबीआई अफसर के खिलाफ हिरासत में मौत या यातना से जुड़ा मुक़दमा दर्ज नहीं है.

22 cases, including 19 corruption cases on CBI officers

As per the information provided by Central Bureau of Investigation (CBI) to Lucknow based activist Dr Nutan Thakur, a total of 118 complaints of corruption came against CBI officers during the last 05 years.

Of these complaints, 13 came in 2015, 27 in 2016, 26 in 2017 while a maximum 39 complaints came in 2018. In 2019 so far 13 complaints have come with CBI.

Information provided to Nutan says that all these complaints were enquired. As per CPIO of CBI, majority of complaints were found to be baseless and false, while action has been taken in some complaints. Without providing the names, the CPIO said that one official was transferred, one was issued warning memo and one was repatriated to his parent department. He said 42 complaints are still being looked into.

The CPIO told Nutan that presently there are 11 criminal cases under investigation against 14 serving CBI officers while 11 cases against 12 serving CBI officers are under trial. 19 of these 22 cases are related with Prevention of Corruption Act. In 04 of these cases, Departmental enquiries against 05 CBI officers are under progress.

The CPIO said there are no cases of custodial death or custodial torture against CBI officers.

आज का पत्रकार : दफ्तर में शराब पीकर किन्नरों संग डांस!

आज का पत्रकार : दफ्तर में शराब पीकर किन्नरों संग डांस!

Posted by Bhadas4media on Tuesday, October 22, 2019
कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *