पुलिस की उगाही लिस्ट सार्वजनिक करने वाले IPS अमिताभ ठाकुर पर योगी सरकार कुपित

जबरा मारे और रोवे भी न दे. ये कहावत है. ऐसा ही हाल यूपी का है. भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाले आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को ही सरकार सबक सिखाने पर आमादा है.

चंदौली-मुगलसराय के एक थाने की उगाही लिस्ट फेसबुक पर डालकर इस मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने वाले अमिताभ ठाकुर को कारण बताओ नोटिस दिया गया है.

नोटिस में अमिताभ ठाकुर से कहा गया है कि उगाही लिस्ट फेसबुक ट्विटर पर प्रकाशित करना यूपी सरकार की सोशल मीडिया नीति का उल्लंघन है.

अमिताभ ठाकुर की पत्नी एडवोकेट नूतन ठाकुर ने इस बाबत एक पोस्ट फेसबुक पर डालकर लिखा है कि अवैध वसूली पर कार्यवाही करने की जगह भ्रष्टाचार को सामने लाने वाला ही प्रताड़ित किया जा रहा है.

देखें स्क्रीनशॉट-

मूल खबर-

यूपी के एक थाने की उगाही लिस्ट हुई लीक, आप भी देखें रेट

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *