सरकार के दलाल दैनिक जागरण को किसानों ने सबक सिखाया, देखें वीडियो

किसान आन्दोलन की पक्षपातपूर्ण खबरें छापने पर हरियाणा के हिसार जिले के नारनौंद में आक्रोशित किसानों ने दैनिक जागरण अखबार की प्रतियां जलाई।

ये घटना भले ही छोटी-सी दिखे पर इसके निहितार्थ बड़े हैं. इस घटना को लाखों करोड़ों किसानों के दिल-दिमाग में दैनिक जागरण के खिलाफ पनपे गुस्से की प्रतीकात्मक प्रतिक्रिया भर मान सकते हैं.

मीडिया मतलब जनपक्ष धर माध्यम. मीडिया मतलब जनता की आवाज. मीडिया मतलब गरीबों की आवाज. मीडिया मतलब सत्ता की गलत नीतियों का भंडाफोड़ करते हुए सरकारों से दो दो हाथ करने का माद्दा रखने वाला माध्यम.

लेकिन हो उलटा रहा है. मीडिया अब सरकार के प्रवक्ता बन गये हैं. मीडिया अब कारपोरेट के गुलाम हो गए हैं. मीडिया मतलब दलाल.

किसान आंदोलन को बदनाम कर रहे मीडिया हाउसों के खिलाफ किसानों ने अपने गुस्से का लगातार इजहार किया है. गोदी मीडिया के रिपोर्टरों की घेरेबंदी होती रही है.

अब खबर है कि दैनिक जागरण की प्रतियां फूंकी गई हैं….

देखें वीडियो-

इन्हें भी पढ़ें-

इस महिला रिपोर्टर को गोदी मीडिया में काम करने के चलते फील्ड में क्या कुछ सुनना पड़ा, देखें वीडियो

मीडिया वाले सरकारी दल्ले हो गए तो किसानों ने निकाल दिया अपना अखबार, देखें ट्राली टाइम्स!

आजतक भी जी न्यूज और रिपब्लिक भारत चैनलों की तरह गोदी मीडिया हो चुका है!

इंडिया न्यूज की महिला रिपोर्टर को किसानों ने कितना बेइज्जत किया, देखें वीडियो

सरकार के भोंपू मीडिया के लिए किसान आंदोलन एक सबक

किसान आंदोलन के रचनाकार हरिवंश ही हैं : श्रवण गर्ग

मीडिया वाले किसके निर्देश पर किसान आंदोलन को खालिस्तानियों से जोड़ रहे हैं?

गोदी मीडिया किसान आंदोलन कवर करते हुए फिर नंगा हुआ!

मीडिया के सुपर संपादक मोदी!

मोदी, मीडिया, किसान और कार्टून

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *