‘समाचार प्लस’ चैनल ने मुझ स्ट्रिंगर का छह महीने का पैसा मार लिया!

समाचार प्लस चैनल की रीयल्टी. पत्रकारों का शोषण करने वाला चैनल. न्यूनतम वेतन से भी कम देने वाला चैनल. छ माह की तनख्वाह खा जाने वाला चैनल. असभ्य और बदमिजाज एडिटर वाला चैनल. अपनी बात से बार बार पलटने वाले सम्पादक. स्ट्रिगरों का हक मारने वाले. खबर के लिए चौबीस घण्टे फोन करने वाले. वेतन के लिए फोन नहीं उठाने वाले. रोज शाम राजस्थान की जनता को ज्ञान बॉटने वाले सम्पादक महोदय. एक स्ट्रिगर के सवालों का जवाब नहीं दे पाते. राजस्थान के दर्जनों पत्रकारों के मेहनत के पैसे खा जाने वाले. पत्रकारो को आईडी कार्ड नहीं देने वाले. ऐसा चैनल जिसमे एकाउण्ट और एचआर डिपार्टमेन्ट नहीं हो. गेजुएट, पोस्ट गेजुएट और बीजेएमसी पास युवाओं को मजदूर से कम वेतन देने वाले, वह भी चार माह की देरी से. ये सब करता है समाचार प्लस चैनल.

एसाइनमेंट डेस्क से अनुरोध है कि नीचे लिखे गए मैसेज को साहनी सर तक पहुंचा दें…

साहनी सर

नमस्ते

मैं विमलेश कुमार शर्मा पूर्व स्ट्रिंगर समाचार प्लस राजस्थान, दौसा। मुझे मिस्टर अजय झा जी ने फोन पर निर्देश देकर चैनल के लिए काम करने से मना कर दिया और चैनल आईडी नव नियुक्त स्ट्रिंगर एचएन पाण्डे को देने के लिए कहा गया। मैंने अजय सर के निर्देश की पालना की। मुझे मेरे लगभग 80 दिनों के बकाया भुगतान के लिए इन्तजार करने के लिए कहा गया। अगस्त माह के शुरुआत में राजस्थान के सभी साथियों का भुगतान कर दिया गया पर मेरा भुगतान नहीं किया गया।

मैंने अजय सर से फोन पर बात की तो उन्होंने कहा कि आपके खाते मे अमाउण्ट डाल दिया गया है। मैंने उन्हें बताया कि मुझे पेमेन्ट नहीं मिला है और मैने बैंक की पूरी डिटेल उन्हें मेल कर सारी स्थिति से साफ साफ अवगत करा दिया। अब बीते तीन चार सप्ताह से अजय सर मेरा फोन अटेण्ड नहीं कर रहे हैं। मैंने दर्जनों बार डेस्क पर फोन कर अजय जी सर से बात करनी चाही पर बात नहीं हो पा रही है। मैने हाशिम जी सर, अमरेश जी सर, दीपक जी सर, जयपुर में चन्द्रशेखर जी और आप से भी एक बार फोन करके पूरी स्थिति से अवगत करा चुका हूं। आपसे अनुरोध है कि मुझ  स्ट्रिंगर के बकाया भुगतान को दिलवाने की मेहरबानी करें।

आपका
विमलेश कुमार शर्मा
9414036436
vimleshdausa@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *