‘छुटभैया चैनल’ वाली खबर से इस आदमी को सबसे ज्यादा मिर्ची लगी…

Yashwant Singh-

इसने मान लिया कि ये छुटभैया चैनल चलाता है… तभी तो इस तरह रीऐक्ट कर रहा है…. कहावत है न चोर की दाढ़ी में तिनका… जिस न्यूज़ में किसी चैनल के नाम का उल्लेख नहीं, उस न्यूज़ को अपने पर लिखा मानकर चार लोगों ने मैसेज भेजे। सबसे ज़्यादा मिर्ची इसको लगी है। ये लीगल नोटिस भेजने के लिए घर का अड्रेस माँग रहा है।

तीन चार नोटिस ये पहले ही मेल वाट्सअप पर भेज चुका है और इसको नोटिस का जवाब भी दिया जा चुका है। अब एक बार फिर ये लीगल नोटिस भेजने के लिए बेचैन है, उस खबर पर जिसमें इसका नाम पहचान ज़िक्र तक नहीं है।
डराने के लिए लोग जाने कैसी कैसी हरकतें करते हैं..

इन साहब का परिचय न पूछिए। बेचैन आत्मा हैं। किसी तरह इत्ता सारा माल कमा लूँ, ये इनके जीवन का लक्ष्य है। बात बात पर ये लीगल नोटिस भेज देते हैं। सैकड़ों लोगों को लीगल नोटिस तो भेज ही चुके होंगे। ये अलग बात है कि जेल गए खुद।

जेल जाने वाली खबर भड़ास पर पब्लिश की (नीचे लिंक देखें) तो उससे भी नाराज़। छूट कर बाहर आए तो दन्न से लीगल नोटिस भड़ास को भेज दिया। कल छुटभैया चैनल वाली खबर पर (नीचे लिंक देखें) इनकी प्रतिक्रिया से ये स्पष्ट हो रहा है कि ये noida में हैं, सेक्टर 63 में हैं और छुटभैया चैनल चला रहे हैं। तुमको मिर्ची लगी तो मैं क्या करूँ….

भड़ास एडिटर यशवंत सिंह की एफबी पोस्ट.

कुछ चुनिंदा प्रतिक्रियाएं देखें-

Satya Singh
सूत्रों के आधार पर एक सनसनाती खबर चेप दीजिए इस चमन चवनप्रास के लिए सब ठीक हो जाएगा…

Anuj MisHra
इंग्लिश के साथ हिंदी भी इसकी वीक है। यशवंत भैया आपकी खुराक ने तो कहीं इसे डिस्टर्ब नहीं कर दिया…

Soumya Chaturvedi
यशवंत जी, इसका नंबर आपके पास है. स्थानीय थाने में रिपोर्ट दीजिये. बाकी काम पुलिस कर देगी.

Prateek Sharma
यही तो समस्या है आप जैसे लोगों के साथ, सभी को प्यार हो जाता है…

Shwetank Ratnamber
Bhai Vo Ch2cho4r Sulphate ke aage wala lagta hai. hahahahahaha.

Yashwant Singh
उससे भी बड़ा वाला है। ये खुद को महान वीर, महान चालाक समझता है और दूसरों को चेला-चिरकुट! पर है मामला उल्टा। इसका सम्पर्क अब किसी क़ायदे के आदमी से करवाना पड़ेगा जो इसे इसी के अन्दाज़ में तबीयत से पानी पिलाए।

Shwetank Ratnamber
Ji Bhai Bahut Jaruri Hai. Mera Apna manna hai ki Jinke mail aaye aapke pas Vo Samne Nahi Aana Chahte ye Unka Durbhagya Hai. Aapne ye sahi Likha Kranti Sab Chahte Hai, Inme se bhii 80% Aise Honge Jo Marna Katna Gali Khana and Salry ma milne jaise yatnao ke Baad me media me stablish hone ke baad Media me Charm and Malai Katne ka sapna sajoye hai and Bhagat Singh Ye Log Hame Aapko Banana Chahte hai. Badi Ajeeb Prajati Hai Jo Khud Ki Madad Nahi Karte Bhagwan bhii Unki Karte Hai Ya Nahi Ye baat nahi Pata.

Adil Zaidi Kavish
बहुत हैवी पत्रकार लग रहे हैं जनाब। स्पेल्लिंग को अंग्रेज़ी की पेचिश हो रही है
सेंटेंस भी सही से नहीं लिख पा रहे हैं और ये पत्रकार हैं ? शीन क़ाफ़ ऐन ग़ैन दुरुस्त नहीं है
“जिससे मे जानू तुम टुरु न्यूज़ लिखते है”
इस वाक्य में कितना स्त्रीलिंग है और कितना पुलिंग इसकी कोई व्याख़्या कर दे।
गज़ब गज़ब के लोग पत्रकार बन जाते हैं भाई साहब…

संबंधित खबरें-

छुटभैया चैनलों में ज्वाइन करने से बचें, इनके संचालक सेलरी नहीं देते, अभद्रता रोज करते हैं

४० फिल्म निर्माताओं से ठगी का आरोपी दुर्गेश सिंह गिरफ्तार

फ़िल्म निर्माताओ से ठगी के आरोपी दुर्गेश सिंह की पुलिस हिरासत फिर चार दिन बढ़ी

महाराष्ट्र ना छोड़ने की शर्त के साथ अदालत ने ठग दुर्गेश सिंह को दी जमानत



 

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक करें- BWG-1

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Comments on “‘छुटभैया चैनल’ वाली खबर से इस आदमी को सबसे ज्यादा मिर्ची लगी…

  • Kunvar sameer shahi says:

    इनका दिमाग खराब हो गया है। ये संपादक नही चम्पादक है। इनका काम सिर्फ शोषण और वसूली तक सीमित है। इनका इलाज भड़ास से बेहतर कोई नही कर सकता क्योंकि स्वामी भदासानन्द जी ऐसे मामलों में पीएचडी है। जल्दी ही इनका भी इलाज होगा पूरी उम्मीद है।
    जय हिंद।

    Reply
  • सत्येंद्र says:

    इसकी तो डांग तोड़ के इसके सोभड़ी में रख देना चाहिए । बाकी काम हम जैसे चादरमोदो पर छोड़ दीजिए । नीच से नीच शैतान से शैतान और जानवर से जानवर बनकर ही लड़ा और पछाड़ा जा सकता है ।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code