बलात्कार कर बेटी को गर्भवती करने वाले कलयुगी बाप पर महिला वकीलों ने किया हमला

आगरा के थाना शाहगंज के ज्ञासपुरा में अपनी बेटी का लगातार शारीरिक शोषण कर गर्भवती करने वाले कलयुगी बाप को पुलिस ने न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया। न्यायलय में कलयुगी बाप के आने की खबर मिलते ही महिला अधिवक्ताओं का आक्रोश फूट पड़ा। उनका साथ देने के लिए पुरुष अधिवक्ता भी आ मिले। दर्जनों की संख्या में माहिला और पुरुष अधिवक्ताओं ने न्यायलय परिसर को घेर लिया, जिसे देख पुलिस के हाथ पैर फूल गए।

दिल्ली में तो आम आदमी रेप करता है लेकिन मुंबई में तो पुलिसवाले ही रेपिस्ट हैं! …एक मॉडल की आपबीती

मुंबई में पुलिसवालों पर रेप का आरोप लगाने वाली मॉडल ने अपनी आपबीती बताई है। एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में मॉडल ने अपना दर्दी बयां किया है। उन्होंने बताया है कि एमबीए के बाद ऑस्ट्रेलिया और सिंगापुर में नौकरी करने के बाद वह ऐक्टिंग में करियर बनाने करीब एक साल पहले मुंबई आई थीं, लेकिन अब वह फिर पुराने प्रोफेशन में लौटना चाहती हैं। पीड़ित मॉडल ने कहा कि वह 3 अप्रैल की रात एक मूवी साइन करने होटेल पहुंची थी। इस मूवी को एक गुजराती बिजनेसमेन फाइनेंस कर रहा था। उनके मॉडलिंग कोआर्डिनेटर ने साइनिंग अमाउंट लेकर वहां से जाने के लिए कहा। इसके बाद बिजनेसमैन मेरे साथ होटल के कमरे तक आया। उसने अपने एक दोस्त को बुलाया और दोनों उसे होटल की पार्किंग में छोड़ने के लिए नीचे आ गए। तभी 6 लोगों ने उन्हें घेर लिया और कहा कि ये पुलिस रेड है।

इन दुराचारियों के लिए रात हो या दिन, कितनी भी उम्र की हो, बस औरत होनी चाहिए

Manika Mohini : कोलकता के नडिया ज़िले के जीसस एंड मेरी कॉन्वेंट स्कूल की 71 वर्षीय नन के साथ दो दिन पूर्व हुए सामूहिक बलात्कार के दोषी हालाँकि स्कूल के CCTV कैमरे में देखे जा चुके हैं लेकिन अब तक पकडे नहीं गए. इन हवस के मारों के बारे में सोचिए, कितने ज़लील हैं ये, 71 वर्ष की महिला के झुर्रियों से भरे हुए शरीर और नन के कपड़ों में कौन सा स्त्री-सौंदर्य होगा जिसने इन मरदुओं को अपनी हवस मिटाने के लिए प्रेरित किया? कहाँ हैं वे लोग जो बलात्कारियों के पक्ष में तर्क देते हैं कि औरतें ऐसे कपडे पहनती हैं, वैसे मेकअप करती हैं, रात को घर से निकलती हैं आदि आदि.